Thursday , April 26 2018
Loading...

धर्म कर्म

होलिका दहन ,सूर्यास्त के बाद ऐसे करेंगे पूजन

होलिका दहन बृहस्पतिवार शाम 7 बजे से होगा. इस बार पूर्णिमा का मान बृहस्पतिवार की प्रातः काल 7:53 बजे से शुक्रवार की प्रातः काल 6 बजे तक है जबकि भद्रा बृहस्पतिवार शाम 6:58 बजे के बाद ही समाप्त होगी. ऐसे में एक मार्च की शाम सात बजे के बाद ही ...

Read More »

दुनियाभर में मशहूर बरसाना की लट्ठमार होली

मथुरा: होली की बात हो व राधा कृष्ण का नाम न आए ऐसा हो ही नहीं सकता। पूरे भारतवर्ष में राधा-मोहन, गोप व गोपियों की होली की तर्ज पर ही इस त्यौहार को हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। लेकिन फिर भी होली का जो रूप यूपी के मथुरा, ब्रज ...

Read More »

मुहूर्त में होलिका दहन करना श्रेष्ठ

होली का त्यौहार रंगों का पर्व तो है ही, साथ ही यह दिन कुछ खास कामों की सफलता के लिए खास अहमियत रखता है. मसलन विवाह न हो रही हो या फिर कर्ज बाकी हो, होली की पूजा सब निवारण करवा सकती है. पं राजकुमार चतुर्वेदी ने बताया कि वर्ष ...

Read More »

अवध की होली से है विशेष लगाव

लखनऊ: बदलते समय के साथ नवाबों के शहर लखनऊ में होली का स्वरूप बदला है लेकिन लोग रंगों के इस त्यौहार से जुडी परंपराओं को व ‘गंगा जमुनी तहजीब’ को जिंदा रखने के लिए लगातार कोशिश कर रहे हैं। नवाबों व रजवाड़ों के परिवार आम तौर पर पुराने लखनऊ में ...

Read More »

होली रंगों का, हँसी-ख़ुशी का त्यौहार

हमारे राष्ट्र में त्यौहारों एवं उत्सवों का महत्व आदि काल से रहा है,जो लोगों में प्रेम, एकता एवं सद्भावना को बढ़ाते हैं। देश के चार प्रमुख त्यौहारों में होली भी शामिल है । होली को लेकर राष्ट्र के विभिन्न क्षेत्रों में अलग -अलग मान्यताएं प्रचलित हैं। लेकिन रंगों का यह ...

Read More »

काशीपुराधिपति की नगरी काशी रंगभरी एकादशी

काशीपुराधिपति की नगरी काशी रंगभरी एकादशी के लिए तैयार है. रंगभरी एकादशी जिसका काशी में खासा महत्व है व हो भी क्यों नहीं इस दिन बाबा विश्वनाथ अपने ससुराल माता पार्वती की विदाई जो करने जाते हैं. अबीर-गुलाल के धमाल के बीच जब निकलेगी गौने की बारात तब समूची काशी ...

Read More »

जानिए भगवान के नृसिंह और भगवान विष्णु के स्वरूप की पूजा

होली का त्योहार आने वाला है। होलाष्टक भी लग चुके हैं। तो ऐसे में आप इन चीजों से पूजा कर अपने कमजोर ग्रहों को और भी मजबूत बना सकते हैं। जानिए कैसे आचार्य भरत राम तिवारी ने बताया कि, पौराणिक मान्यता के अनुसार होली से आठ दिन तक शुभ कार्य ...

Read More »

प्राकृतिक रंगों वाली होली

नई दिल्ली: पुरातन काल में होली फलों व फूलों के रस से खेली जाती थी, जो आनंद में वृद्धि तो करते ही थे साथ ही हमारी स्कीन के लिए भी गुणकारी होते थे। किन्तु आज हम जो कृत्रिम रंगों का इस्तेमाल करते हैं उनमे कई प्रकार के हानिकारक तत्व मिले ...

Read More »

जानिए आमलकी एकादशी के महत्व

26 फरवरी को आमलकी एकादशी है. फाल्गुन मास की शुक्ल पक्ष को पड़ने वाली एकादशी को आमलकी एकादशी कहते है. इस एकादशी का महत्व अक्षय नवमी के समान होता है. आमलकी का मतलब होता है आंवला. जिस प्रकार अक्षय नवमी के दिन आंवले के पेड़ की पूजा होती है उसी ...

Read More »

बरसाने की लट्ठमार होली सहित ब्रज संस्कृति को बढ़ावा देगे मुख्यमंत्री योगी

मथुरा : नंदगांव के ग्वाला अपने सिर पर पाग बांध हाथों में ढाल लेकर होली खेलने के लिए बरसाना कूच करने की तैयारी कर रहे हैं। उधर, बरसाने की ग्वालिनों ने इन होरी के रसियों को सबक सिखाने के लिए घरों में रखे लठ निकाल लिए हैं। बरसानावासियों ने भी ...

Read More »