भय के कारण लड़के ने जूते के फीते से फंदा लगा दी जान

मामला हरियाणा के यमुनानगर का है, सिविल अस्पताल में एंबुलेंस पर कार्यरत एक ईएमटी (इमरजेंसी मेडिकल टेक्निशियन) ने अपने घर में दरवाजे की चौखट पर चिटकनी में जूते के फीते से फंदा लगाकर जान दे दी. अप्रैल माह में ही युवक की चंडीगढ़ पुलिस में तैनात एक युवती से विवाहहोनी थी.

मृतक के पिता का कहना है कि उसका बेटा विवाह करने से डरता था. संभावना जताई जा रही है कि इसी के चलते वह मानसिक रूप से परेशान था. पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद मृत शरीर परिजनों के हवाले कर दिया. शहर की छोटी लाइन स्थित प्रतापनगर निवासी सालिगराम मुंडा खेड़ा के सरकारी स्कूल में टीचर हैं. सालिगराम ने बताया कि दस जनवरी को उनकी पत्नी उर्मिला उनकी बेटी के पास पंचकूला गई थी. इस दौरान घर पर वह  उनका बेटा विकास थे. प्रतिदिन की तरह शुक्रवार प्रातः काल नाश्ता बनाकर वह स्कूल चले गए.

दोपहर करीब साढ़े 12 बजे जब वह स्कूल से लौटे तो उन्होंने देखा कि घर का दरवाजा अंदर से बंद है.उन्होंने विकास को आवाज लगाई, लेकिन अंदर से कोई जवाब नहीं आया. बेटे को फोन किया, लेकिन उसने फोन भी नहीं उठाया. इस दौरान आसपड़ोस के लोग इकट्ठा हो गए. लोगों की मदद से घर का दरवाजा तोड़ा तो देखा विकास कमरे के दरवाजे की चौखट की चिटकनी से जूतों के फीते के फंदे पर लटका हुआ था. उन्होंने तुरंत उसे उतारा  अस्पताल लेकर पहुंचे. जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित किया. मामले की सूचना पुलिस को दी गई. अर्जुन नगर चौकी पुलिस मौके पर पहुंची कार्रवाई शुरुआत कर दी.

यह भी पढ़ें:   नि:शुल्क वीजा प्रवेश पर हुआ ये अहम समझौता
Loading...
loading...

शादी करने से लगता था डर

सालिगराम नी बताया कि उसके बेटे को विवाह करने से भय लगता था. कई बार उन्होंने इसका कारण भी पूछा, लेकिन वह कोई कारण नहीं बताता था. हालांकि उन्होंने उसके टेस्ट भी करवाए.लेकिन सब नॉर्मल आया. मनोचिकित्सक ने भी उसकी जांच करवाई थी. बीते साल उसके बेटे की विवाह चंडीगढ़ में एक पुलिस कर्मी युवती से तय हुई थी. सगाई भी हो चुकी थी. अप्रैल माह में विवाहहोना तय हुआ था. लेकिन इससे पहले बेटे ने यह कदम उठा लिया.

नहीं मिला कोई सुसाइड नोट 
जांच ऑफिसर हेड कांस्टेबल अजय का कहना है कि ईएमटी के सुसाइड करने की सूचना पर वे सिविल अस्पताल पहुंचे थे. वहां मृत शरीर को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाया. मृतक के घर की भी तलाशी ली गई लेकिन वहां से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है. परिजनों के अनुसार युवक मानसिक रूप से परेशान था.

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
यह भी पढ़ें:   रेलवे आज से शरू करेगा अपनी 'गोल्ड' स्टैंडर्ड ट्रेन
Loading...
loading...