Saturday , April 21 2018
Loading...

इन चार घंटों के दौरान आप नहीं उड़ा पाएंगे पतंगें

मकर संक्रांति का त्योहार जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है, पतंगबाजी का शौक परवान चढ़ने लगा है. इसमें खास तौर पर जयपुर में लोग प्रातः काल  शाम के वक्त पतंगबाजी का लुत्फ लेने लगे हैं. पतंगबाजी का आनंद खूब लें, लेकिन ध्यान रखें कि चार घंटों के दौरान पतंगबाजी पर रोक लगा दी गई है.
राजस्थान के जयपुर स्थित स्वायत्त शासन विभाग ने आदेश जारी कर दिन के चार घंटों में पतंगबाजी करने पर रोक लगा दी है. इस दौरान धारदार मांजे से पक्षियों  लोगों के घायल होने की संभावना बनी रहती है. जानकारी के मुताबिक प्रातः काल 6 से 8 बजे तक  शाम को 5 से 7 बजे के बीच पतंगबाजी करने पर रोक रहेगी. इन चार घंटों पर रोक लगाने से पक्षियों को कम से कम नुकसान हो सकेगा.

यह भी पढ़ें:   हाथ की ये रेखा बतायेगी की कितना सफल होगा आपका प्यार

दरअसल पक्षियों के उड़ान भरने का समय प्रातः काल  शाम के इन चार घंटों में ज्यादा रहता है. प्रातः काल से समय पक्षियों के उड़ने  शाम के दो घंटों के समय घोंसले की तरफ लौटने का समय होता है. ऐसे में इस दौरान पतंगबाजी पर रोक लगाई गई है.

आदेश के तहत चाइनीज मांझे की बिक्री के साथ ही उसके प्रयोग पर भी रोक लगाई गई है. चाइनीज मांझे के साथ ही प्लास्टिक  सिंथेटिक मांझा प्रयोग नहीं करने दिया जाएगा. ऐसा करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी.

Loading...
loading...

बताते चलें कि हर वर्ष सैंकड़ों की संख्या में पक्षी  लोग चाइनीज मांझों का शिकार होते हैं. चाइनीज मांझे के साथ ही सिंथेटिक मांझे की धार ज्यादा तेज होने के चलते लोग बुरी तरह घायल हो जाते हैं.

प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल सवाई मानसिंह अस्पताल में बड़ी संख्या में चाइनीज मांझे से घायल होकर लोग संक्रांति  उसके इर्द गिर्द के दिन पहुंचते हैं.

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
यह भी पढ़ें:   शनिवार को बन सकते हैं आपके सारे बिगड़े काम
Loading...
loading...