चिंतन शिविर में कांग्रेस पार्टी करेगी पराजय की समीक्षा

अहमदाबाद:के परिणाम घोषित होने के दो दिन बाद कांग्रेस पार्टी में आत्ममंथन का दौर प्रारम्भ हो गया पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी चुनाव नतीजे के विश्लेषण के लिए आयोजित तीन दिवसीय चिंतन शिविर में शनिवार को शामिल होंगे पार्टी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष भरत सिंह सोलंकी ने यहां बोलाकि चिंतन शिविर में कांग्रेस पार्टी नेता  कार्यकर्ता जिलावार चुनाव परिणामों का विश्लेषण करेंगे एवं 2019 के लोकसभा चुनाव के मद्देनजर आगे की रणनीति तैयार करेंगे सोमवार को घोषित चुनाव परिणामों में कांग्रेस पार्टी सत्ता प्राप्त करने के लिए महत्वपूर्ण आंकड़े तक नहीं पहुंच सकी, लेकिन पार्टी ने पिछले विधानसभा चुनाव के मुकाबले 16 सीट अधिक हासिल की

भाजपा लगातार छठीं बार चुनाव जीतने में सफल रही लेकिन पार्टी विधायकों की संख्या 2012 के 115 के तुलना में घटकर 99 रह गई कांग्रेस पार्टी गुजरात के ग्रामीण इलाकों में अच्छा प्रदर्शन करने में पास रही लेकिन शहरों में उसका खास असर नहीं दिखा सोलंकी ने बोला कि पहले दो दिन चिंतन शिविर का आयोजन मेहसाणा जिले के एक रिजॉर्ट में किया जा रहा  शिविर के अंतिम दिन इसका आयोजन अहमदाबाद में होगा जहां गांधी भी इसमें शामिल होंगे राज्य में धुआंधार प्रचार अभियान चलाने वाले गांधी चिंतन शिविर के बाद कांग्रेस पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे

गुजरात विधानसभा चुनाव में 77 सीटें जीतने वाली कांग्रेस पार्टी इस तथ्य से थोड़ा संतोष प्राप्त कर सकती है कि उसके 16 उम्मीदवार 3000 से कम मतों के अंतर से हारे हैं राज्य विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने 99 सीटों पर जीत हासिल की इनमें से तीन को 1000 से भी कम मतों से पराजय का सामना करना पड़ा गोधरा में सी के राउलजी ने महज 258 मतों के अंतर से जीत हासिल कीराउलजी इसी सीट से पिछली विधानसभा में कांग्रेस पार्टी के विधायक थे वह इस वर्ष राज्यसभा चुनाव से पहले सत्तारूढ़ पार्टी में शामिल हो गए इस एरिया में अच्छी खासी मुस्लिम आबादी है

यह भी पढ़ें:   देश के सबसे कमजोर प्रधानमंत्री हैं नरेंद्र मोदी : राहुल गांधी
Loading...
loading...

उन्होंने कांग्रेस पार्टी के राजेंद्र सिंह परमार को हराया जबकि निर्दलीय उम्मीदवार जसवंत सिंह परमार को 18 हजार 856 मत मिले 3050 लोगों ने नोटा का बटन दबाया ढोलका विधानसभा सीट पर बीजेपी के वरिष्ठ नेता भूपेंद्र सिंह चूड़ासामा ने कांग्रेस पार्टी के अश्विनभाई राठौड़ को 327 मतों के छोटी अंतर से हराया इस सीट पर 2347 लोगों ने नोटा का बटन दबाया जबकि निर्दलीय उम्मीदवार शक्तिसिंह सिसिदिया को 4222 मत मिले

भाजपा के एक अन्य वरिष्ठ नेता सौरभ पटेल ने बोटाड सीट पर कांग्रेस पार्टी के डी एम पटेल को 906 मतों के अंतर से हराया पटेल आनंदी बेन पटेल गवर्नमेंट में राज्य के वित्त मंत्री थे  निवर्तमान विधानसभा में वड़ोदरा की अकोटा सीट का प्रतिनिधित्व कर रहे थे इस बार उन्हें बोटाड से उतारा गया

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
यह भी पढ़ें:   राहुल गांधी के बयान पर अखिलेश ने मिलाया सुर में सुर
Loading...
loading...