इच्छामृत्यु मांग रही ये महिला, राष्ट्रपति को लिखा पत्र

देश में रहने वाली एक महिला ने इच्छामृत्यु मांगी है  इसके लिए उन्होंने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को लेटर लिखा है. इसके पीछे की वजह जानेंगे तो चौंक जाएंगे. मामला हरियाणा का है. उकलाना मंडी के गांव भेरी अकबरपुर की एचआईवी संक्रमित महिला ने उकलाना के नायब तहसीलदार से मुलाकात कर ख़्वाहिश मृत्यु की मांग करते हुए राष्ट्रपति के नाम पर एक लेटर सौंपा.
महिला ने उकलाना के सरकारी अस्पताल की एक नर्स, डॉक्टर  एक व्यक्तिगत अस्पताल के डॉक्टर पर उसकी सामान्य डिलीवरी के 15 हजार रुपये वसूलने, बंधक बनाने, उनके एचआईवी संक्रमित होने की बात सार्वजनिक करने के गंभीर आरोप लगाए हैं. महिला ने उकलाना पुलिस पर भी धमकाने के आरोप लगाए है. पीड़िता ने CM से भी मिलकर अपनी व्यथा सुनाने की मांग की है.

पीड़िता ने शिकायत लेटर में आरोपियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई न होने पर आत्मदाह करने की धमकी भी दी है. नायब तहसीलदार अनिल परूथी ने पीड़िता को भरोसा दिलाया कि उनकी शिकायत तत्काल गवर्नमेंट को भेजी जा रही है. लोकल सरकारी अस्पताल के प्रभारी डॉक्टर राजेश ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है. दोनों पक्षों को बुलाया गया है.

नायब तहसीलदार को सौंपी शिकायत में पीड़िता ने बताया कि वह 29 नवंबर को उकलाना के सरकारी अस्पताल में चेकअप के लिए गई थी वहां उपस्थित स्टाफ नर्स के बताया कि उसे कुछ ही घंटों बाद बच्चा पैदा होने वाला है परंतु सरकारी अस्पताल में सुविधाएं नहीं है, इसलिए वह एक प्राईवेट अस्पताल में प्रसूति करवा देगी  मात्र तीन-चार हजार का खर्चा आएगा.

यह भी पढ़ें:   ऑड-इवेन लागू करने पर NGT का निर्णय आज...
loading...
Loading...

वह नर्स उसे शहर के एक व्यक्तिगत अस्पताल में ले गई जहां उसकी डिलीवरी हो गई. मौजूद महिला डॉक्टर ने उससे बदले में 17 हजार रुपये मांगे, इतने पैसे उसके परिवार के पास नहीं थे, इस बारे में उसके परिजनों ने पूछताछ की तो डॉक्टर और अन्य स्टाफ के लोगों ने उनके साथ धक्कामुक्की की तथा उसे बंधक बनाए रखा, कुछ लोगों ने बीच-बचाव कर 15 रुपये दिए तब जाकर उसे छुट्टी दी गई.

पीड़िता ने यह आरोप भी लगाए कि सरकारी नर्स, चिकित्सक और व्यक्तिगत अस्पताल वालों ने लोगों को यह भी बता दिया कि वह एचआईवी की संक्रमित है. यह बात मेरे गांव और आसपास के गांवों में फैल गई है, समाज मुझे घृणा की नजर से देखने लगा है.

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
यह भी पढ़ें:   PAK ब्‍लॉगर का भारतीय खुफिया एजेंसी RAW के साथ संबंधों पर हुआ था अपहरण
Loading...
loading...