कांग्रेस ने लगाया इस सत्र में देरी का आरोप

नईदिल्ली. कांग्रेस ने केंद्र गवर्नमेंट से संसद के शीतकालीन सत्र में देरी किए जाने का आरोप लगाया है. इस मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री अधीन नबी आजाद ने बोला कि बिना किसी कारण संसद के शीतकालीन सत्र को देर से प्रारंभ किए जाने का कोशिश हो रहा है. यह सत्र तो नवंबर माह में ही प्रारंभ हो जाना चाहिए था. संसद सत्रों को लेकर जानकारी केवल पीएम ऑफिस से आती है ऐसे में संसदीय काम मंत्री तक को इस मामले में जानकारी नहीं होती है बल्कि संसदीय काम मंत्री को तो सत्रों के आयोजन की जानकारी होना चाहिए.

पूर्व केंद्रीय मंत्री आजाद ने आरोप लगाया कि केंद्र गवर्नमेंट केवल चुनावों पर ध्यान देने में लगी है. उसका ध्यान हिमाचल प्रदेश के विधानसभा चुनाव गुजरात राज्य के विधानसभा चुनाव में है. गुजरात की तारीखों को करीब 10 दिन से 15 दिन के लिए टाल दिया गया था. पीएम नरेंद्र मोदी को लेकर उन्होंने बोला कि मौजूदा पीएम तो लोकसभा चुनावों में भी पार्टी का प्रचार करते हैं  पंचायत चुनाव हों तो भी पार्टी का चुनाव प्रचार करने जाते हैं.

यह भी पढ़ें:   पीएम मोदी का 'दिवाली मिलन समारोह' आज...
loading...
Loading...

आखिर वे सरकारी खर्च पर चुनाव प्रचार करते हैं. इसी तरह की स्थिति केंद्रीय मंत्रियों की भी है. इस मामले में सोनिया गांधी ने बोला कि मोदी गवर्नमेंट घमंड से भरी हुई है. ऐसे में सभी लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं को प्रभावित किया जा रहा है. संसदीय सत्र को प्रभावित करने का कदम बहुत गंभीर है. इस तरह से नहीं होना चाहिए. हालांकि केंद्रीय मंत्री अरूण जेटली ने बोला कि कांग्रेस पार्टी गलत आरोप लगा रही है. शीतकालीन सत्र अपने समय पर होगा.

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
यह भी पढ़ें:   इस कदम से डिप्रेशन में चला गया अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम
Loading...
loading...