राम रहीम की गुफा में ऐसे पहुंचती थीं साध्वियां…

राम रहीम को सजा होने के बाद उसके डेरा सच्चा सौदा से जुड़े कुछ और राज सामने आए हैं। इंडिया टुडे की खबर के मुताबिक, डेरे में राम रहीम की विश कन्याओं का एक ग्रुप था। इस ग्रुप की महिलाओं का काम था डेरे की सुंदर लड़कियों को अपने झांसे में लेकर राम रहीम की गुफा तक पहुंचाना। ये विश कन्या राम रहीम की बेहद खास थीं और पहले खुद भी इस सब से गुजर चुकी होती थीं। ये विश कन्याएं तरह-तरह के लड़कियों को बहकाती थीं। कहती थीं कि बाबा ने उनको अपना सबसे खास शिष्य मानाकर आशीर्वाद देने के लिए बुलाया है। विश कन्याएं मासूम लड़कियों से कहती थीं कि बाबा ने उनको ‘पवित्र’ करने और आशीर्वाद देने के लिए अपने पास गुफा में बुलाया है।

यह भी पढ़ें:   ब्लू व्हेल चैलेंज: जोधपुर में लड़की ने दोबारा की खुदकुशी की कोशिश...

राम रहीम की गुफा में ऐसे पहुंचती थीं साध्वियां, सामने आए ‘विषकन्या’ और ‘मन सुधार कमरे’ के राज

ये विश कन्याएं हीं इस बात पर भी नजर रखती थीं कि डेरे की कोई भी लड़की राम रहीम के खिलाफ बात ना करे। जिसको ऐसा करते देख लिया जाता था उसको 24 घंटे तक बिना खाना-पानी के रखा जाता था। जो लड़कियां फिर भी नहीं मानती थीं उनको ‘मन सुधार कमरे’ में लेकर जाया जाता था। वहां उनको कुर्सियों से बांध दिया जाता था और पीटा जाता था। यह सजा कहना ना मानने वाले लड़कों को भी दी जाती थी। जो लड़के लड़कियों को घूरते हुए दिख जाते थे उनके चेहरे पर कालिख पोतकर गधे पर बैठा कर घुमाया भी जाता था।

यह भी पढ़ें:   आइआइटी प्रोफेसर की पत्नी ने लगाया इतना गंभीर आरोप जिसे सुन हैरान हो जाएंगे आप...
loading...

राम रहीम को सजा दिलाने में गुरदास सिंह टूर नाम के शख्स का अहम रोल है। वह सीबीआई के गवाह थे। उन्होंने बताया कि उन विश कन्याओं पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है। कुछ विश कन्याएं कथित तौर पर अभी डेरे में मौजूद ती हैं। उनमें से एक तो प्रेग्नेंट हो जाने वाली साध्वियों का गर्भपात करवाती थी। राम रहीम फिलहाल रोहतक जेल में बंद है। उसको बीस साल की सजा हुई है। उसे दो साध्वियों के बलात्कार का दोषी पाया गया था।

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
loading...