टॉयलेट में ‘गलत हरकत’ कर रहा था कंडक्टर, तभी प्रद्मुम्न वहां पहुंच गया और हुआ से खौफनाक कांड

रेयान इंटरनेशनल स्कूल में प्रद्युम्न की हत्या से ठीक पहले आरोपी कंडक्टर अशोक स्कूल के टॉयलेट में हस्तमैथुन कर रहा था. इससे पहले ताइक्वांडो के तीन स्टूडेंट्स और माली वहां गए थे. उनके जाने के बाद आरोपी फिर से वही हरकत कर रहा था. तभी प्रद्युम्न वहां पहुंच गया और अशोक ने उसे टॉयलेट में खींच लिया. फिर वो बच्चे के साथ गलत काम करने की कोशिश कर रहा था.

आरोपी अशोक ने टॉयलेट में ही वारदात को अंजाम दिया था

प्रद्युम्न मर्डर केस में खुलासा हुआ है कि वारदात के वक्त आरोपी अशोक टॉयलेट में हस्तमैथुन कर रहा था. इससे पहले तीन ताइक्वांडो स्टूडेंट्स और माली वहां आए थे. लेकिन उनके जाने के बाद वो अपनी हरकत में मशगूल था. तभी प्रद्युम्न वहां पहुंचा. उसने अशोक को आपत्तिजनक हालत में देख लिया था.

अशोक की नजर जैसे ही प्रद्युम्न पर पड़ी उसने उसे आखरी टॉयलेट में खींच लिया. और फिर उसके साथ गलत काम करने की कोशिश की. मगर बच्चा शोर मचाने लगा. विरोध करने लगा. तभी घबराकर अशोक ने चाकू निकाला और बच्चे की गर्दन पर एक के बाद एक, दो वार किए.

यह भी पढ़ें:   यूपी में कानून व्यवस्था की खुली पोल-थाने के सामने हमला कर व्यापारी को लूटा, पुलिस रही मौन

जिससे प्रद्युम्न की गर्दन से खून की धारा फूट पड़ी. इस दौरान खून की कुछ धब्बे अशोक के ऊपर भी आ गए. वह टॉयलेट से बाहर निकल गया. तभी कुछ स्टूडेंट्स आए और उन्होंने उसे देखा और शोर मचा दिया. उसके बाद अशोक बच्चे को उठा कर लाया और वैगनआर गाड़ी में रख दिया.

तकरीबन आधे घंटे तक आरोपी अशोक खून से सने कपड़ों में घूमता रहा. इस मामले के दूसरे गवाह सुभाष ने अशोक को कपड़े धोने से मना किया था. उसने अशोक से कहा था कि सबूतों से छेड़छाड़ न हो. लेकिन फिर भी अशोक ने अपने कपड़े धो दिए थे.

loading...

दूसरा गवाह सुभाष उसी बस का ड्राइवर है, जिस पर अशोक कंडक्टर था. उसने भी यह बात बताई कि उसने कंडक्टर अशोकको खून से सने कपड़ों में देखा था.

आरोपी न्यायिक हिरासत में

बता दें कि आरोपी बस कंडक्टर अशोक को तीन दिन की पुलिस रिमांड के बाद सोहना कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे 18 सितंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. सोहना कोर्ट में पेशी के लिए लाए गए आरोपी अशोक पर लोग भड़क गए और पीटने की कोशिशों के बीच काफी हंगामा हुआ. इसी बीच रेयान इंटरनेशनल स्कूल के बस ड्राइवर सौरभ राघव ने चौंकाने वाला खुलासा किया. उसने बताया कि हत्या में इस्तेमाल चाकू टूल किट का हिस्सा नहीं था.

यह भी पढ़ें:   घर में बेटी को अकेली देख पिता की नीयत डोली, बनाया अपनी हवस का शिकार...

ये है पूरा मामला

बीते शुक्रवार गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में दूसरी क्लास में पढ़ने वाले 7 साल के मासूम प्रद्युम्न की गला रेतकर बेरहमी से हत्या कर दी गई थी. कत्ल का इल्जाम स्कूल बस के कंडक्टर अशोक पर लगा. पुलिस पूछताछ में अशोक ने अपना जुर्म कबूल कर लिया. अशोक ने पुलिस को बताया कि उसने प्रद्युम्न के साथ कुकर्म करने की कोशिश की थी. नाकाम होने पर पकड़े जाने के डर से उसने प्रद्युम्न की गला रेतकर हत्या कर दी.

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
loading...