ऋद्धिमान बोले- वर्ल्ड कप के लिए कर रहा हूं कड़ी मेहनत

टीम इंडिया के टेस्ट विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा ने कहा कि उनकी पत्नी चाहती हैं कि वह 2019 में होने वाला आईसीसी वर्ल्ड कप खेलें और इसी कारण वह ज्यादा मेहनत कर रहे हैं. साहा के जीवन पर एक गाना लिखा गया है. उसी गाने की सीडी लांच पर साहा ने कहा, “मेरी पत्नी की ख्वाहिश है कि मैं वर्ल्ड कप टीम का हिस्सा बनूं और विश्व कप खेलूं.”

ऋद्धिमान साहा

साहा ने कहा, “वह हमेशा मुझे इसके लिए कहती रहती हैं. मैं अपनी कोशिश कर रहा हूं, लेकिन फैसला चयनकर्ताओं का हाथों में है.”साहा ने भारत के लिए 28 टेस्ट मैच खेले हैं, लेकिन अभी तक उन्हें वनडे टीम में ज्यादा मौके नहीं मिले हैं, क्योंकि महेंद्र सिंह धोनी 36 साल की उम्र में भी टीम में बने हुए हैं और बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं.

साहा ने भारत के लिए 9 वनडे मैच खेले हैं जिसमें 13.66 की औसत से रन बनाए हैं. उन्हें पांच पारियों में बल्लेबाजी करने का मौका मिला है, जिसमें उनका बेस्ट स्कोर 16 रन है. साहा ने अपना आखिरी वनडे 2014 में हैदराबाद में श्रीलंका के खिलाफ खेला था.

यह भी पढ़ें:   यूपी के गांव से निकले इस फास्ट बॉलर ने मचा दिया तहलका

साहा ने 2014 में आईपीएल में किंग्स इलेवन पंजाब के लिए खेलते हुए फाइनल में शतक जड़ा था और पूरे टूर्नामेंट में अपने बल्ले से सभी को प्रभावित किया था. साहा ने कहा, “हर खिलाड़ी सभी फॉर्मेट में खेलना चाहता है, लेकिन यह चयनकर्ताओं पर निर्भर करता है.

loading...

मैं तैयारी इसलिए करता हूं कि मैं अपने आप को बेहतर कर सकूं. बाकी का काम चयन समिति पर निर्भर है. मैं सिर्फ वनडे खेलने के लिए मेहनत नहीं करता.”साहा से जब पूछा गया कि क्या विराट कोहली की कप्तानी वाली भारतीय टीम के लिए 2018 कठिन रहेगा क्योंकि उसे इस दौरान इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका का दौरा करना है.

इस सवाल का जबाव देते हुए साहा ने कहा, “हां, यह मुश्किल होगा, लेकिन चुनौती घर और बाहर एक जैसी लय बनाए रखना होगी. हम विदेशों में भी जीत रहे हैं.” भारत को 17 सिंतबर से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पांच वनडे मैचों की सीरीज खेलनी है. साहा ने इस पर कहा कि इस समय लक्ष्य 2019 वर्ल्ड कप के लिए टीम तैयार करना है.

यह भी पढ़ें:   राफेल नडाल व फेडरर शंघाई मास्टर्स के सेमीफाइनल में

साहा ने कहा, “भारत की बेंच स्ट्रैंथ काफी मजबूत है. मेरा मानना है कि टीम इस समय 2019 वर्ल्ड कप की तैयारी कर रही है. इसलिए खिलाड़ियों को रोटेशन पॉलिसी के तहत मौका दिया जा रहा है. भारत इस समय हर तरह के संयोजन में अच्छा प्रदर्शन कर रहा है, जो अच्छी बात है.”

साहा ने कहा कि उन्हें अभी काउंटी क्रिकेट खेलने का मन नहीं है. उन्होंने कहा, “मैं अभी काउंटी क्रिकेट नहीं खेलना चाहता. मैं अपने परिवार के साथ ज्यादा समय बिताना चाहता हूं.” ऑस्ट्रेलियाई टीम पर साहा ने कहा, “भारत को भारत में हराना हमेशा से मुश्किल होता है. ऑस्ट्रेलिया ने पिछली बार अच्छा किया था, लेकिन मैं भारत को आगे रखूंगा.”

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
loading...