Saturday , December 15 2018
Loading...

पुलिस ने एक सैक्स रैकेट का भंडाफोड़ करते हुए चार युवकों को किया गिरफ्तार

पुलिस ने एक सैक्स रैकेट का भंडाफोड़ करते हुए चार युवकों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से छह युवतियों को मुक्त कराया है। पुलिस ने चारों आरोपियों के खिलाफ मानव तस्करी के आरोप में मुकदमा दर्ज किया है।

आरोप है कि युवक नेपाल, दिल्ली और हिमाचल से युवतियों को नौकरी दिलाने का झांसा देकर दून लाते थे और यहां उन्हें वैश्यावृत्ति में झोंक देते थे। बुधवार को थानाध्यक्ष राजपुर अरविंद कुमार ने बताया कि पुलिस को लगातार शिकायतें मिल रही थी कि कुछ युवक कार से मसूरी और आसपास के क्षेत्रों की युवतियां दून लाते हैं।

ऐसी ही एक सूचना पर बुधवार को मसूरी डायवर्जन के पास पुलिस ने चेकिंग अभियान चलाया। कुछ देर बाद चेकिंग के लिए दो कारें रोकी गईं। दोनों कारों में चार युवक और छह युवतियां बैठी हुई थी।

Loading...
पुलिस ने युवकों से पूछताछ शुरू की तो उनमें से एक युवक कार से उतरकर भागने की कोशिश करने लगा। इस पर पुलिस ने उसे घेर लिया और सभी को राजपुर थाने लेकर पहुंची। यहां लाकर की पूछताछ में पता चला कि ये युवक, युवतियों को मसूरी लेकर जा रहे थे।

युवतियों ने पूछताछ में बताया कि आरोपी युवक उन्हें नौकरी दिलाने के बहाने यहां लेकर आए हैं और अब वैश्यावृत्ति कराते हैं। आरोपियों के नाम राहुल सिंह निवासी डी सर्कुलर रोड, सोनिया विहार नई दिल्ली, आलोक सिंह निवासी ग्राम मदनापुर, शाहजहांपुर उत्तर प्रदेश, मोनू गुंसाई निवासी ब्रहमपुरी, पटेलनगर देहरादून और रोबिन निवासी पीपिंग, जिला अराहाथी, नेपाल हैं। युवतियों में तीन मूल रूप से नेपाल, दो दिल्ली और एक देहरादून की रहने वाली है।

loading...
Loading...
loading...