Saturday , December 15 2018
Loading...

तमिलनाडु ने बंगाल को हराकर विजय हजारे ट्रॉफी पर किया कब्जा

उत्तराखंड के कर्णवीर कौशल विजय हजारे ट्रॉफी क्रिकेट टूर्नामेंट में दोहरा शतक बनाने वाले पहले बल्लेबाज बन गए हैं। 27 वर्षीय कौशल ने यहां प्लेट ग्रुप मैच में शनिवार को सिक्किम के खिलाफ यह उपलब्धि हासिल की। उन्होंने मात्र 135 गेंदों पर 202 रनों की पारी खेली। कौशल ने अपनी रिकॉर्ड पारी में 18 चौके और नौ छक्के लगाए।

उन्होंने 38 गेंदों पर 50 रन, 71 गेंदों पर शतक, 101 गेंदों पर 150 रन और 132 गेंदों पर अपना दोहरा शतक बनाया। वह उत्तराखंड की पारी के 47वें ओवर में आउट हुए।

Loading...

विजय हजारे ट्रॉफी में किसी भी बल्लेबाज द्वारा बनाया गया यह व्यक्तिगत सर्वोच्च स्कोर भी है। इससे पहले, अजिंक्य रहाणे ने 2007-08 में पुणे में मुंबई की ओर से खेलते हुए महाराष्ट्र के खिलाफ 187 रन की पारी खेली थी।

loading...

कौशल ने विनीत सक्सेना (100) के साथ पहले विकेट के लिए 296 रन की रिकॉर्ड साझेदारी की जो भारत में लिस्ट-ए क्रिकेट के इतिहास में यह सबसे बड़ी साझेदारी है। इससे पहले, शिखर धवन और आकाश चोपड़ा ने 2007-08 में दिल्ली के लिए खेलते हुए पंजाब के खिलाफ 277 रन की नाबाद साझेदारी की थी।

गब्बर ने अफरीदी को लताड़ा, लिखा..’अपनी सोच अपने पास रखो, ज्यादा दिमाग मत लगाओ’

टूर्नामेंट में कौशल का यह तीसरा शतक है। उन्होंने इससे पहले पुड्डुचेरी के खिलाफ 101 और मिजोरम के खिलाफ 118 रन बनाए थे। उनके सात मैचो में अब 467 रन हो गए हैं।

कौशल की इस ऐतिहासिक दोहरी शतकीय पारी की बदौलत उत्तराखंड ने 50 ओवर में दो विकेट पर 366 रन का मजबूत स्कोर बनाया और फिर सिक्किम को 50 ओवर में छह विकेट पर 167 रन पर रोककर 199 रन से मैच जीत लिया।

Loading...
loading...