Wednesday , December 19 2018
Loading...

खिलाड़ियों को नहीं मिल रहा अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका

प्रदेश की अंडर-16 टीम के चयन को लेकर आए दिन नया विवाद हो रहा है। अब पौड़ी जिले की टीम में कुछ खिलाड़ियों को चयन के बाद बाहर करने के आरोप लगाए जा रहे हैं। आरोप है

कि कुछ दिन बाद दूसरी सूची जारी कर कई खिलाड़ियों को बाहर कर अन्य को टीम में शामिल कर लिया गया।

Loading...

राज्य स्तरीय अंडर-16 टीम के चयन से पहले सभी जिलों की एक-एक और देहरादून की दो टीमें चुनी गई हैं। इन टीमों के चयन में जमकर धांधली होने के आरोप लग रहे हैं। आरोप यहां तक हैं कि हरिद्वार में कई खिलाड़ियों को ट्रायल में शामिल किए बिना ही टीम में शामिल कर लिया गया। यह मामला हाईकोर्ट तक भी पहुंच गया है। अन्य जिलों में भी गड़बड़ियों के आरोप
लग रहे हैं।

loading...

वहीं, पौड़ी टीम को लेकर भी विवाद पैदा हो गया है। बताया जा रहा है कि जिला क्रिकेट संघ पौड़ी ने 11 सितंबर को 14 क्रिकेटरों की टीम घोषित की। साथ ही पांच क्रिकेटरों को वेटिंग लिस्ट में रखा गया। इसके बाद 23 सितंबर को दूसरी सूची जारी की गई, जिसमें कई क्रिकेटरों को बदल दिया गया।

-कई खिलाड़ियों को नहीं मिला मौका

स्टेट ट्रायल चैंपियनशिप को लेकर भी सवाल उठाए जा रहे हैं। चैंपियनशिप के दौरान कई क्रिकेटरों को मैदान पर उतरने का मौका तक नहीं मिल पाया। ऐसे में चयनकर्ता उनका चयन
किस आधार पर करेंगे। बारिश के कारण कई टीमों के मैच धुल गए। अब उन टीमों के क्रिकेटरों को राज्य स्तर की टीम में कैसे शामिल किया जाएगा। इससे कई प्रतिभावान खिलाड़ियों को

Loading...
loading...