Monday , December 10 2018
Loading...

देश की 56 कंपनियां बनी सुपरब्रांड्स, जाने कौन है वो

देश की 56 प्रमुख कंपनियों को वर्ष 2018 के लिए सुपरब्रांड्स के अवार्ड से नवाजा गया। इन कंपनियों में एफएमसीजी, फॉर्मा, ऑटो, हेल्थकेयर, लॉजिस्टिक्स, सीमेंट और रिटेल सेक्टर में कार्य कर रही है और इनके नाम से देश का आम आदमी भी काफी अच्छे से परिचित हैं।

भारतीय कंपनियों में हो रहा है इनोवेशन

इस साल जिन कंपनियों को अवार्ड दिया गया है, उनमें से ज्यादातर इनोवेशन पर ध्यान दे रही हैं। नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने कहा कि वैश्विक स्तर पर भारतीय ब्रांड्स की जागरूकता और स्वीकृति बनाने के लिए, हमारी जबरदस्त क्षमता के बावजूद, ऐसा करना भारत के लिए एक बड़ी चुनौती बना हुआ है।

Loading...

जबकि भारत को योग, बॉलीवुड और क्रिकेट के लिए वैश्विक जागरूकता पैदा करने में सफलता मिली है जो वैश्विक ब्रांड बिल्डिंग के महान उदाहरण हैं। हमें वैश्विक उपभोक्ता ब्रांड बनने के लिए भारतीय ब्रांडों को लोकप्रिय बनाने के कई और प्रयासों की आवश्यकता है। वैश्विक स्तर पर ब्रांड बनाने के लिए संपूर्णता, जुनून, संसाधन और उत्कृष्टता जरूरी है।

loading...

दुनिया की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में सबसे ज्यादा विकास दर वाले देश भारत की कंपनियां वैश्विक बाजारों में अपनी पैठ बनाने के लिए हर संभव कदम उठा रही हैं, ऐसे में भारत को विश्व स्तर पर पहचान रखने वाले ग्लोबल सुपर ब्रांड्स बनाने चाहिए।

सुपरब्रांड्स इंडिया की सीएमडी गीतांजलि आनंद ने कहा कि आज के दौर में डिजिटल ब्रांडिंग अब पारंपरिक ब्रांडिंग से अधिक महत्वपूर्ण हो गई है। भारत में आज सभी क्षेत्रों में ब्रांडिंग लगातार विकसित हो रही है और अपने टीजी तक पहुंचने के लिए सही आवाज पैदा कर रही है।  सुपरब्रांड्स इंडिया देश के शीर्ष ब्रांड्स को असाधारण ब्रांडिंग करने और सुपरब्रांड्स सील के साथ सम्मानित करने के लिए अपना अभियान जारी रखेगा।

Loading...
loading...