Sunday , October 21 2018
Loading...
Breaking News

कल्पना लाजमी के निधन से दु:खी हैं विनता नंदा

प्रसिद्ध फिल्मकार कल्पना लाजमी का मुंबई के कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में रविवार की सुबह निधन हो गया। वह 64 साल की थीं। लाजमी किडनी कैंसर और लिवर फेलियर से पीड़ित थीं।कल्पना लाजमी के निधन पर वैसे तो पूरी फिल्म इंडस्ट्री दु:खी है लेकिन निर्देशक विनता नंदा के लिए ये एक व्यक्तिगत नुकसान है। अपनी खास दोस्त के यूं सबको छोड़ चले जाने पर आइए देखिए क्या कहती हैं विनता नंदा।

उन्होंने कहा है- एक सितारा वहां चला गया जहां उसकी जगह थी। कल्पना लाजमी उन एक्टर्स में से थीं जिनका मकसद महिला प्रधान फिल्मों को आगे लाना था। उनपर काम करना था। उन्होंने जिस कठिनाई से इस काम को अंजाम दिया वो काबिले तारीफ है क्योंकि एक महिला डायरेक्टर की फिल्म पर पैसे लगाने वाले बहुत कम होते हैं।

लाजमी की बतौर निर्देशक आखिरी फिल्म 2006 में प्रदर्शित ‘चिंगारी’ थी। यह फिल्म भूपेन हजारिका के उपन्यास ‘द प्रॉस्टीट्यूट एंड द पोस्टमैन’ पर आधारित थी। हजारिका उनके पार्टनर भी थे। बता दें कि कल्पना महिला प्रधान फिल्में बनाने के लिए जानी जाती थीं। रविवार दोपहर को ही उनके पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार किया गया। लेकिन हैरानी की बात ये थी कि इंडियन फिल्म एंड टीवी डायरेक्टर्स संस्था का कोई प्रतिनिधि आज मशहूर उन्हें श्रद्धांजलि देने नहीं पहुंचा।

Loading...
loading...