Thursday , February 21 2019
Loading...
Breaking News

ओर्गास्म के अलावा भी सेक्स में बहुत कुछ है

अंजलि और सूरज को अजीब जगहों पर सेक्स करने में कुछ ख़ास मज़ा आता है। यह शुरू हुआ था जब वो अचानक गोवा घूमने गए थे।

यह ट्रिप इतनी जल्दी बना था कि वो अपनी ट्रेन की टिकट भी बुक नहीं करवा पाये थे। इसकी वजह से उन दोनों को एक ही सीट मिल पायी थी क्योंकि दूसरी प्रतीक्षा सूची में रह गयी थी। उन्होंने सोचा अलग-अलग बैठने से अच्छा एक ही सीट पर सफ़र कर लें। रात को वो दोनों एक ही चद्दर के अंदर थे जब डिब्बे की बत्तियां बंद हो गयीI लेकिन शायद उनकी जली हुई थीI उन दोनों ने उस रोमांचक पल को बर्बाद करने के बजाय उसका फायदा उठाने का निर्णय किया और पूरी रात एक दुसरे से चिपककर और अंतरंग होकर गुज़ारी। उन्होंने इस बात की भी पूरी सावधानी बरती की उनकी वजह से बाकी सहयात्रियों की ना तो नींद खराब हो और ना ही उन्हें किसी भी प्रकार की कोई भी असुविधा हो।

जगह कम होने की वजह से उनकी यात्रा थकान भरी ज़रूर थी लेकिन उससे उन्हें कुछ नया आज़माने का मौका भी मिला था। शायद इसी आत्मविश्वास की वजह से उन्होंने पूरी छुट्टियां समुन्दर किनारे एक दूसरे को आलिंगन और चुम्बन करते बिताई थी।

सेक्स में कुछ अलग और मज़ेदार
वापस आते-आते दोनों को इस बात का विश्वास हो गया था कि सेक्स के सन्दर्भ में उन दोनों को ही नए प्रयोग और अकस्मात सेक्स पसंद था। उन्हें अजीब परिस्थितियों और स्थानों में सेक्स करने में अब मज़ा आने लगा था।

घर पर भी वो हर स्थान पर सेक्स कर चुके थे, फिर चाहे वो उनका सोफ़ा हो या हो रसोईघर का स्लैब, डाइनिंग टेबल हो या फ़िर हो बारिश में उनके घर के पीछे वाला लॉन।सेक्स का लुत्फ़ उठाना आपके लिए अच्छा है

अंजलि हमेशा से लिफ्ट या टेंट के अंदर सेक्स करना चाहती थी। शायद उसे ऐसे स्थान रोमांचित करते थे जहाँ जगह कम होती थी और ऐसा ही किया उन दोनों ने जब वो अगली बार छुट्टियां मनाने गएI उन्होंने समुन्द्र के किनारे एक टेंट लिया और उसी के अंदर छुट्टिया बिताईI समुन्द्र से आती हर लहर के साथ उन्होंने एक दुसरे को और करीब होता पायाI

नयी जगह, नयी कहानी!
सूरज को जोखिम उठाना और जोशीली चीज़ें करने में मज़ा आता थाI एक बार उन्होंने उनके एक रिश्तेदार के घर में तब सेक्स किया जब वो बाहर गए हुए थेI हर समय उन्हें यही डर लगा हुआ था कि कोई अंदर ना आ जाएँ और यही ख्याल उन्हें सबसे ज़्यादा उत्तेजित कर रहा थाI

खाना खाने के बाद वो अक्सर गाड़ी लेकर निकल जाते थे और पार्किंग में सेक्स किया करते थेI उन्हें गाड़ी की अगली और पिछली सीटों पर अलग-अलग मुद्राओं में सेक्स करना बेहद पसंद थाI

एक बार सूरज को बिना बताये अंजलि उसके ऑफिस पहुँच गयी थी और सबके जाने के बाद उन्होंने सूरज के केबिन में पूरी रात सेक्स किया थाI

बैडरूम के आगे

कितनी बार तो इन दोनों ने स्विमिंग करते हुए सिर्फ़ इस बात का इंतज़ार किया है कि कब बाकी लोग निकले और कब वो एक दूसरे के साथ वो कर सके जो सबके सामने नहीं कर पा रहे थेI इनके घर के ऊपर वाली छत को सिर्फ़ यही इस्तेमाल करते हैं और इसलिए कई बार ऑफिस से आने के बाद यह अपने ड्रिंक लेकर वही जाकर तनावमुक्त होते हैं और चाँद-तारों की रोशनी में एक दूसरे के और करीब आ जाते हैंI

इनका रिश्ता ना जाने ऐसे कितने रोमांच पैदा कर देने वाले क्षणों से भरा है और साथ बिताए इन्हीं पलो की वजह से इनका रिश्ता आज बेहद मज़बूत हो चुका हैI इन दोनों को लगता है कि इनका रिश्ता दुनिया का सबसे अच्छा रिश्ता है क्यूंकि इनका प्यार और रोमांस किसी ख़ास जगह का मोहताज नहीं हैI यह दोनों इस बात को मानते हैं कि रिश्ते में कामुकता बनाए रखने के लिए हर जोड़े को नए-नए प्रयोग करते रहने चाहिएI

तो अगली बार पार्टनर के साथ मस्ती करने का मन करे तो बैडरूम के अलावा भी सोचेंI याद रखें कि ज़रूरी नहीं कि रोमानी पल सिर्फ़ बैडरूम में ही हो और उनका अंतिम पड़ाव ओर्गास्म ही होI कई बार थोड़ा अलग हटकर चीज़ें करने और हर पल को मदमस्त होकर जीने में ज़्यादा मज़ा आता हैI

क्या आपने कभी बैडरूम के बाहर सेक्स किया है? अपनी कहानिया हमसे फेसबुक पर साझा करेंI अगर आपके मन में कुछ सवाल हो तो हमारे फोरम जस्ट पूछो का हिस्सा बनेंI

loading...