Monday , December 10 2018
Loading...

ट्रंप की ओर से चीन के खिलाफ छेड़ी गई कारोबारी जंग..

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की ओर से चीन के खिलाफ छेड़ी गई कारोबारी जंग बढ़ती जा रही है। अब ट्रंप प्रशासन ने दबाव बढ़ाने के लिए 200 अरब डॉलर (करीब 14.42 लाख करोड़ रुपये) के चीनी के उत्पादों पर 10 फीसदी शुल्क की घोषणा की घोषणा की है। यह नया शुल्क 24 सितंबर से लागू होगा। ट्रंप प्रशासन की नई शुल्क योजना के बाद दोनों देशों के बीच कारोबारी जंग अगले स्तर पर पहुंचने की आशंका बढ़ गई है।


उल्लेखनीय है कि पिछले सप्ताह ट्रंप ने इस तरह का कदम बहुत जल्द उठाए जाने का संकेत दिया था। आर्थिक मामलों पर नजर रखने वाले सूत्र के मुताबिक, शुल्क विवाद को लेकर दोनों देशों के बीच फिर से नए स्तर पर बातचीत हो सकती है।
बता दें कि इस साल की शुरुआत में 25 फीसदी शुल्क लगाने की बात कही गई थी। लेकिन ट्रंप ने अभी 10 फीसदी ही टैरिफ लगाने का एलान किया है। चीन और अमेरिका ने पहले ही 50 अरब डॉलर का शुल्क एक-दूसरे के उत्पादों पर लगा दिया है। चीन ने 60 अरब डॉलर (4326.30 रुपये) का शुल्क अन्य अमेरिकी उत्पादों पर लगाया है। इसकी नई सूची भी जारी की गई है।

Loading...

इससे पहले वालटर्स ने बताया था कि ट्रंप स्पष्ट हैं कि अमेरिकी प्रशासन चीन के व्यापार के गलत तरीकों को रोकने के लिए उसके उत्पादों पर कड़े आयात शुल्क लगाएगा। चीन से बार-बार आग्रह किया जाता रहा है कि वह अमेरिका के साथ लंबे समय से चल रहे इस मुद्दे का समाधान निकालने की पहल करे। चीन के विदेश मंत्रालय ने भी बृहस्पतिवार को अमेरिका के साथ इस मुद्दे पर बातचीत के लिए सहमति जताई थी। पिछली बार 22 अगस्त को दोनों देशों के राजनयिक इस मुद्दे पर मिले थे, लेकिन उनकी मुलाकात का कोई नतीजा नहीं निकला।

loading...
Loading...
loading...