Friday , October 19 2018
Loading...
Breaking News

सीतारमण की अध्यक्षता में 9100 करोड़ रुपए के रक्षा उपकरणों की खरीद को दी मंजूरी

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में 9100 करोड़ रुपए के रक्षा उपकरणों की खरीद को मंजूरी दे दी गई है। बता दें कि रक्षा खरीद परिषद ने मंगलवार को सेना के लिए ये स्कृति दी है। इसमें आकाश मिसाइल सिस्टम के तहत दो रेजीमेंटों को लाभ मिलेगा। ये आकाश मिसाइल भारत डायनामिक्स लिमिटेड से खरीदी जाएगी।

इससे पहले रक्षा मंत्रालय ने फरवरी 2018 में 15,935 करोड़ रुपए के खरीद प्रस्तावों को मंजूरी दी थी। डीएसी ने सशस्त्र बलों की शक्ति को और मजबूत करने के लिए 7.40 लाख असॉल्ट राइफलों, 5,719 स्नाइपर राइफलों और लाइट मशीन गनों की खरीद प्रस्ताव को मंजूरी दी थी। यह खरीद प्रस्ताव काफी समय से डीएसी के समक्ष लंबित था।

आने वाले दिनों में आकाश मिसाइल के अपग्रेडेड वर्जन होंगे जो पतले होंगे। 360 डिग्री पर इनका कवरेज होगा और कॉम्पैक्ट कंफीग्रेशन होगा। आईयूडब्लूबीए का इस्तेमाल टैंक का क्रू अपनी सुरक्षा के लिए करता है और आपात की स्थिति में बचने के लिए उन्हें इसकी जरूरत होती है।

Loading...

रक्षा मंत्रालय भारतीय सुरक्षा बलों को आधुनिक बनाने की कोशिशों में है। इसे ध्यान में रखते हुए आधुनिक हथियार खरीदने की योजना है। भारतीय वायु क्षेत्र को सुरक्षित बनाने के लिए रूस के साथ एंटी एयरक्राफ्ट डिफेंस मिसाइल सिस्टम एस-400 खरीद की प्रक्रिया अंतिम चरण में है। भारत अमेरिका के साथ भी नए और आधुनिक हथियार खरीदने के लिए बातचीत कर रहा है।

loading...

इसके साथ ही डीएसी ने टी90 टैंक के लिए गाइडेड वेपन सिस्टम के डिजाइन और उत्पादन को भी मंजूरी दी है। ये औजार डीआरडीओ द्वारा बनाया जा रहा है। इसके पहले तक विदेशी निर्माताओं से खरीदे जाने वाले सारे हथियार अब भारत में ही बनाए जा रहे हैं और मेक इन इंडिया को बढ़ावा दिया जा रहा है।

Loading...
loading...