Tuesday , October 16 2018
Loading...

सेवाओं की डोरस्टेप डिलीवरी को सफल बनाने के लिए केजरीवाल ने उठाया ये बड़ा कदम

डोर स्टेप डिलीवरी योजना को लेकर ना केवल सरकार, बल्कि आम लोगों में भी उत्साह है। इसे देखते हुए दिल्ली सरकार ने 50 कॉल सेंटर लाइन को बढ़ाकर 300 लाइन करने का निर्णय लिया है। सोमवार से कॉल सेंटर की लाइन तो बढ़ेंगी ही साथ ही कॉल सेंटर के एग्जीक्यूटिव भी 600 हो जाएंगे।

इसके साथ ही मोबाइल सहायकों में भी बढ़ोतरी की गई है जो आपके घर पहुंचकर इस सुविधा का लाभ दिलाएंगे। हालांकि दिल्ली सरकार का कहना है कि भाजपा योजना में खलल डाल रही है और इसे पटरी से उतारने की मुहिम में जुटी है। इसके बावजूद योजना को कामयाब बनाकर रहेंगे।

दिल्ली सरकार के मंत्री कैलाश गहलौत ने बताया कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने डोर स्टेप डिलीवरी योजना का रिव्यू कर योजना को और भी अधिक मजबूत बनाने का निर्देश दिया है। सोमवार से 30 इनकमिंग व 20 आउटगोइंग फोन लाइन की जगह 300 फोन खुल जाएंगी। जरूरत पड़ने पर हम 600 कॉल सेंटर की फोन लाइन भी करेंगे।

Loading...
70 मोबाइल सहायकों की जगह अब 300 मोबाइल सहायक लोगों की सहायता में जुटेंगे। सरकार का कहना है कि ऑपरेटरों और फोन लाइनों की संख्या बढ़ाने से फोन करने वाले लोगों को काफी सहूलियत हो जाएगी।

मीडिया से बातचीत में गहलौत ने कहा कि बड़े ही दुख की बात है कि भाजपा इस योजना को फेल करने की मुहिम में जुटी है, लेकिन दिल्ली सरकार इस योजना को कामयाबी तक पहुंचा कर रहेगी। उन्होंने बताया कि मोबाइल सहायकों को परेशान किया जा रहा है।

loading...

जब वे घर पर पहुंचते हैं तो उनसे कहा जाता है कि दो घंटे बाद आना मैं घर पर नहीं हूं। फिर दो घंटे बाद कहा जाता है कि 4 घंटे बाद आएं। इससे मोबाइल सहायक जरूरतमंदों की सहायता नहीं कर पा रहे हैं।

Loading...
loading...