Thursday , November 15 2018
Loading...

सपाक्स सभी 230 सीटों पर लड़ेगी विधानसभा चुनाव

सामान्य पिछड़ा एवं अल्पसंख्यक वर्ग अधिकारी कर्मचारी संस्था (सपाक्स) ने आगामी विधानसभा चुनाव में राज्य की सभी 230 सीटों पर चुनाव लड़ने का एलान कर दिया है। सपाक्स ने चुनाव लड़ने के लिए अपने 60 से ज्यादा प्रत्याशियों से सहमति जता दी है। जिसके बाद सभी उम्मीदवार अपने विधानसभा क्षेत्रों में चुनावी अभियान में डट गए हैं।

सपाक्स के संरक्षक हीरालाल त्रिवेदी ने बताया कि हम सभी सीटों पर चुनाव लड़ने और अन्य राजनीतिक पार्टियों को चुनौती देने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। चुनाव में सपाक्स एससी-एसटी एक्ट में संशोधन, जातिगत आधार पर सरकारी योजनाओं का लाभ देना, शिक्षा में आरक्षण को खत्म करने जैसे मुद्दों को उठाएगी।

त्रिवेदी ने कांग्रेस और बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि दोनों ही राजनीतिक दलों ने हमेशा जातिगत राजनीति की है और लोगों को आपस में लड़ाया है। हम लोगों से जुड़े मुद्दों के लिए लड़ रहे हैं और इसलिए लोग हमासे जुड़ रहे हैं।

Loading...

सपाक्स से सेवानिवृत्त आईएएस, आईपीएस, सेना के अधिकारी बड़ी संख्या में जुड़ गए हैं। अन्य राजनीतिक दलों के कुछ बड़े नाम भी सपाक्स में शामिल हो रहे हैं। हम ऐसे नेताओं को आने का निमंत्रण दे रहे हैं जो हमारे विचारों से सहमत हैं, लेकिन पार्टी के कारण इस दिशा में काम नहीं कर पा रहे हैं।

loading...

एक फीसदी ही उठा पा रहे फायदा 

हीरालाल त्रिवेदी ने बताया कि अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति को दी जा रही सुविधाओं का लाभ हकदारों तक नहीं पहुंच रहा है। इस वर्ग के सिर्फ एक फीसदी लोगों ही इसका फायदा उठा पा रहे हैं। कई लोगों की तो तीन-तीन पीढ़ियों ने एक के बाद एक लाभ लिया है। हम इस वर्ग के लोगों को भी समझा रहे हैं कि हम आपके साथ हैं और सरकार आपसे किस तरह आपका हक छीन रही है।

Loading...
loading...