Wednesday , September 19 2018
Loading...

राष्ट्रगान के दौरान 9 साल की बच्ची नहीं हुई खड़ी

ऑस्ट्रेलिया में एक 9 साल की बच्ची के राष्ट्रगान में खड़ा न होना वहां के नेताओं को इतना नागवार गुजरा की उन्होंने बच्ची के बारे में भला बुरा तो कहा कि साथ ही यह भी कहा कि उसे स्कूल से निकाल दिया जाना चाहिए।
देश के क्वींसलैंड की रहने वाली हार्पर नीलसन का कहना है कि उसने ऐसा इसलिए किया क्योंकि राष्ट्रगान में देश के मूल निवासियों का अपमान किया गया है। जो कि उसे अच्छा नहीं लगा।

हार्पर ने एक सवाल के जवाब में कहा कि राष्ट्रगान का टाइटल एडवांस ऑस्ट्रेलिया फेयर टाइटल है। उसने कहा कि इसमें कहा गया है कि सभी लोग खुशी मनाएं क्योंकि वह आजाद और जवान हैं।

उसने बताया कि इसमें एडवांस का मतलब श्वेत लोगों से है। इसमें देश के मूल निवासियों को भुला दिया गया है, जो कि 50 हजार साल पहले देश के निवासी हुआ करते थे। बता दें ऑस्ट्रेलिया के मूल निवासी कुल आबादी का महज 2 फीसदी ही हैं।

Loading...

नेता ने कहा बच्ची को स्कूल से बाहर कर देना चाहिए

देश के दक्षिणपंथी सीनेटर की नेता पॉलीन हेन्सन का कहना है कि देशभर के स्कूल बच्चों का ब्रेन वॉश कर रहे हैं और बच्ची को स्कूल से बाहर कर देना चाहिए। वह गलत रास्ते पर है जिसके लिए उसके माता पिता जिम्मेदार हैं।

उन्होंन कहा कि राष्ट्रगान में पूरे देश की बात की गई है जिसका हिस्सा सभी लोग हैं। ऐसा ही कुछ देश के बाकी नेताओं ने भी कहा। किसी ने स्कूल को गलत बताया तो किसी ने उसके माता पिता को।

loading...

वहीं हार्पर के पिता का कहना है कि उनकी बेटी बहादुर है। फिलहाल इस बारे में स्कूल की ओर से कोई जवाब नहीं आया है कि बच्ची को स्कूल से निकाला जाएगा या फिर सस्पेंड किया जाएगा।

Loading...
loading...