Sunday , September 23 2018
Loading...
Breaking News

अब तक नहीं आया गोल्ड मेडलिस्ट संजीता चानू का परिणाम

दो बार राष्ट्रमंडल खेलों की स्वर्ण पदक विजेता वेटलिफ्टर संजीता चानू ने इंटरनेशनल वेटलिफ्टिंग फेडरेशन से गुहार लगाई है कि उनके बी सैंपल टेस्ट का खुलासा किया जाए। संजीता ने आईडब्लूएफ की लीगल काउंसिल डॉ. ईवा निरफा को लिखे पत्र में कहा है कि अमेरिकन लैबोरेटरी को उनका बी सैंपल टेस्ट किए हुए तीन माह का समय हो चुका है, लेकिन उनका अब तक परिणाम घोषित नहीं किया गया है।

संजीता का कहना है कि इंडियन वेटलिफ्टिंग फेडरेशन की ओर से उनके नाम की सिफारिश अर्जुन अवॉर्ड के लिए की गई है। अगर बी सैंपल का परिणाम घोषित कर दिया जाएगा तो उनके अवॉर्ड पर भी स्थिति साफ हो जाएगी। वरना वह एक बार फिर राष्ट्रीय खेल पुरस्कार पाने से वंचित रह जाएंगी।

संजीता ने आईडब्लूएफ को लिखा है कि उन्होंने बी सैंपल के बारे में यूनाइटेड स्टेट्स एंटी डोपिंग एजेंसी (युसाडा) से भी बात की है, लेकिन उनका कहना है कि डोप टेस्ट रिजल्ट मैनेजमेंट की जिम्मेदारी आईडब्लूएफ की है। युसाडा ने छह जून को उनका कोड नंबर 1599000 का बी सैंपल टेस्ट किया है।

Loading...

सैंपल टेस्ट किए हुए तीन माह से अधिक का समय हो गया है। ऐसे में इसका परिणाम अब तक आ जाना चाहिए था, लेकिन इसकी जानकारी न ही उन्हें और न ही इंडियन वेटलिफ्टिंग फेडरेशन को दी गई है।

loading...

गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों से स्वर्ण जीतने के बाद जब संजीता वापस लौटीं तो आईडब्लूएफ ने उन्हें बताया कि वह नवंबर 2017 में हुई वर्ल्ड चैंपियनशिप से पहले आउट ऑफ कंपटीशन टेस्ट में डोप में पॉजिटिव पाई गई हैं।

Loading...
loading...