Saturday , November 17 2018
Loading...

30 हजार रुपए के लिए कर दी एचडीएफसी बैंक के वाइस प्रेसिडेंट की हत्या

मुंबई पुलिस ने सोमवार को खुलासा किया है कि एचडीएफसी बैंक के वाइस प्रेजिडेंट सिद्धार्थ सिंघवी की हत्या 30 हजार रुपये की लूट के लिए की गई थी। यह कॉन्ट्रैक्ट पर कराई गई हत्या नहीं थी। उनका शव कल्याण हाईवे से बरामद किया गया। सिंघवी 5 सितंबर से लापता थे।

मामले पर डिप्टी पुलिस कमिश्नर अभिनाश कुमार का कहना है कि पुलिस ने प्राइवेट ड्राइवर सरफराज शेख को गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि सिंघवी (37) अपने कमला मिल स्थित ऑफिस की पार्किंग से 5 सितंबर को लापता हो गए थे। जब वह समय पर रोज की तरह घर नहीं पहुंचे तो उनके परिवार ने बुधवार की ही रात एनएम जोशी मार्ग पुलिस स्टेशन में उनके लापता होने की शिकायत दर्ज कराई। सिंघवी अपने बेटे और पत्नी के साथ साउथ मुंबई के मलाबार हिल में रहते थे।

पांच दिनों तक जांच में जुटी पुलिस को सोमवार को थाणे जिले में एक सुनसान जगह पर उनका शव मिला। कुमार ने बताया आरोपी ने सिंघवी के सारे पैसे लूटने की कोशिश की और जब वह चिल्लाने लगे तो उसने हथियार से हमला कर उनकी हत्या कर दी। सिंघवी की मौत के बाद ड्राइवर उनके शव को ठिकाने लगाने के लिए चला गया। इसके बाद उसने सिंघवी की गाड़ी भी ड्राइव की और उसे नवी मुंबई में छोड़ दिया और वहां से फरार हो गया।

Loading...

शेख (20) को मुंबई से रविवार को पकड़ा गया और उसके खिलाफ सिंघवी की हत्या का मामला दर्ज किया गया। उसे मुंबई कोर्ट के सामने पेश करने के बाद 19 सितंबर तक के लिए पुलिस कस्टडी में भेजा गया है। मुंबई के पार्किंग एरिया से पुलिस ने पीड़ित के ब्लड सैंपल भी ले लिए हैं। इसके अलावा उनकी कार भी बरामद कर ली है। जो कि 6 सिंतबर को मिली थी।

loading...
Loading...
loading...