X
    Categories: क्राइम

12 बार बैंकों को ठगा…एचडीएफसी को भी करोड़ों का चूना

पुलिस की गिरफ्त में एक बेहद शातिर नटवरलाल आया है। ये नटवरलाल इतना शातिर है कि बड़े से बड़े बैंकों को भी अपना शिकार बना लेता है। पंजाब के मानसा में पुलिस ने इसे धर धबोचा है। जिला पुलिस ने पिछले कुछ महीनों से भगोड़े और 24 मामलों में नामजद ठगी के एक मास्टरमाइंड को रविवार को गिरफ्तार किया। एसएसपी मनधीर सिंह ने बताया कि 42 वर्षीय पाला सिंह वासी महमड़ा (सरदूलगढ़) 2014 से ठगी कर रहा था।

उस पर थाना सरदूलगढ़ में 24 पर्चे दर्ज हैं। उसने पटवारी किरपाल सिंह और गुरजीत सिंह वासी खुम्मन के साथ मिलकर एक कंप्यूटर-फोटोस्टेट की दुकान पर जमीन की जाली जमाबंदियां, फर्द और रजिस्ट्रियां आदि तैयार की थी। इन जाली दस्तावेजों के आधार पर उसने एचडीएफसी बैंक सरदूलगढ़ से पांच करोड़ 77 लाख रुपये का लोन ले लिया था।

Loading...

एसपी (डी) अनिल कुमार ने बताया कि आरोपी यूपी, हरियाणा और मध्य प्रदेश में छिपकर रह रहा था। इंचार्ज पीओ इंस्पेक्टर अजैब सिंह की अगुवाई में थाना सरदूलगढ़ की पुलिस ने खुफिया सूचना के आधार पर रविवार को आरोपी को रतिया रोड कैंचियां (सरदूलगढ़) से गिरफ्तार किया।

loading...

बैंक से 12 बार की ठगी 
जांच अधिकारी शिवजीराम ने बताया कि 2014 में पाला सिंह और पटवारी किरपाल सिंह ने एचडीएफसी बैंक से 12 बार ठगी की थी। इन वारदात में उनके साथ कई अन्य आरोपी भी शामिल थे। इसके कुछ समय बाद किरपाल सिंह की मौत हो गई। वहीं कुछ महीने पहले पाला सिंह भगोड़ा घोषित हो गया था। 2016 में हाईकोर्ट के आदेशों पर बनी एसआईटी (स्पेशल इंवेस्टिगेशन टीम) द्वारा पाला सिंह को ठगी का मास्टरमाइंड करार देते हुए 12 मामलों में मुख्य आरोपी घोषित किया था। वहीं भगोड़ा घोषित होने के बाद अदालत के आदेशों पर विभिन्न मामलों में उस पर 12 और केस दर्ज किए गए थे।

Loading...
News Room :