X
    Categories: राष्ट्रीय

पाकिस्तान से लगी सीमा को स्मार्ट बाड़ से लैस करेगा भारत

पाकिस्तान से लगी भारतीय सीमा पर लगातार हो रही आतंकी घुसपैठ को रोकने के लिए इस महीने पहली स्मार्ट बाड़ पायलट परियोजना की शुरुआत होगी। स्मार्ट बाड़ परियोजना के तहत लेजर बाड़ लगाने के साथ अनेक अत्याधुनिक इलेक्ट्रॅनिक उपकरण लगाए जाएंगे। गृहमंत्री राजनाथ सिंह 17 सितंबर को औपचारिक रूप से इसका शुभारंभ करेंगे।

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के महानिदेशक केके शर्मा ने शुक्रवार को कहा कि इन अत्याधुनिक इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों को 2,400 किमी लंबी पाकिस्तान और बांग्लादेश से लगी भारतीय सीमा पर लगाया जाएगा। उन्होंने कहा कि भारत के रिश्ते बांग्लादेश और उसकी सीमा सुरक्षा बल बीजीबी के साथ फिलहाल बेहद दोस्ताना हैं। इसलिए व्यापक एकीकृत सीमा प्रबंधन प्रणाली (सीआईबीएमएस) के तहत पहले पाकिस्तान से लगी सीमा पर इन स्मार्ट उपकरणों को लगाया जाएगा।

शर्मा ने कहा कि सीबीआईएम प्रणाली या स्मार्ट बाड़ की पहली प्रायोगिक परियोजना जम्मू में काम कर रही है। उन्होंने कहा कि ब्रह्मपुत्र के पार धुबरी में पूर्वी सीमा पर हमने 55-60 किलोमीटर के खंड पर तकनीकी उपकरण लगाए हैं, क्योंकि वहां बाड़ लगाने की संभावना नहीं है।

Loading...

ऐसी होगी स्मार्ट बाड़ :
बाड़ का निर्माण इलेक्ट्रॉनिक निगरानी वाले उपकरणों से किया जाएगा। इनमें सीसीटीवी कैमरे, नाइट विजन उपकरण, हैंड-हेल्ड थर्मल इमेज, युद्ध क्षेत्र में निगरानी रखने वाले राडार, ग्राउंड सेंसर, हाई पावर टेलीस्कोप आदि भी होंगे। इसके साथ ही सीसीटीवी कैमरे, लेजर दीवारों का भी निर्माण होगा। अगर कोई भी बाड़ के नजदीक आएगा तो तुरंत ही इसकी जानकारी केंद्रीय निगरानी प्रणाली को मिल जाएगी।

loading...
Loading...
News Room :

Comments are closed.