Saturday , September 22 2018
Loading...
Breaking News

आज से होगी भाजपा की दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक

भाजपा की राष्ट्रीय  कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक शनिवार को शुरू होगी। इस बैठक में पार्टी इसी साल होने वाले चार राज्यों के विधानसभा चुनाव के साथ अगले साल के लोकसभा चुनाव के लिए चुनावी रणनीति का खाका खींचेगी। बैठक में इन राज्यों के साथ-साथ मिशन 2019 के लिए चुनावी मुद्दों पर चर्चा होगी। इसके अलावा सभी राज्यों की अलग-अलग रिपोर्टिंग होगी। गौरतलब है कि इसी साल मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान और तेलंगाना में विधानसभा चुनाव होने हैं। इनमें तीन राज्यों में पार्टी की सरकार है।

बैठक में दोपहर बाद पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के अध्यक्षीय भाषण के पहले पार्टी पदाधिकारियों की बैठक में एजेंडा तय होगा। अध्यक्षीय भाषण के बाद सभी प्रदेश अध्यक्ष अपने अपने राज्यों की रिपोर्टिंग देंगे। चुनावी राज्यों पर अलग-अलग चर्चा कर रणनीति तैयार की जाएगी। एक पूरा सत्र लोकसभा चुनाव की तैयारियों की चर्चा पर होगी। बैठक में राजनीतिक, आर्थिक और विदेश नीति से संबंधित प्रस्ताव पारित होंगे। इसके अलावा दिवंगत अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर शोक प्रस्ताव पारित किया जाएगा। बैठक के अंत में रविवार को पीएम नरेंद्र मोदी का संबोधन होगा।

Loading...

चुनावी मुद्दे और इसके भुनाने की बनेगी रणनीति 

loading...

बैठक में चुनावी राज्यों के साथ अगले लोकसभा चुनाव के लिए न सिर्फ मुद्दे तय होंगे, बल्कि इसे भुनाने की रणनीति भी तैयार होगी। इस क्रम में राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) और मोदी सरकार की उज्जवला सहित अन्य महत्वाकांक्षी योजनाओं को भुनाने की रणनीति तैयार होगी। इस क्रम में एससी-एसटी एक्ट को उसके मूल स्वरूप में वापस लाने केलिए संविधान संशोधन मामले में दलितों को भुनाने केसाथ नाराज सवर्णों को मनाने की भी रणनीति बनेगी।

ओबीसी आयोग पर विशेष चर्चा 

ओबीसी आयोग को संवैधानिक दर्जा देने को मोदी सरकार मिशन 2019 ही नहीं बल्कि चुनावी राज्यों में भी बड़ा मुद्दा बनाएगी। इस उपलब्धि के माध्यम से पिछड़ा वर्ग को साधने के सभी विकल्पों पर विचार कर एक विस्तृत खाका तैयार किया जाएगा।

Loading...
loading...