Tuesday , November 20 2018
Loading...

बिना छिले खाएं ये फल और सब्जियां, होते हैं गजब के फायदे

अच्छी सेहत के लिए ताजे फलों और हरी सब्जियों का सेवन करना चाहिए। अपनी डाइट में फल और सब्जियों को शामिल करने से शरीर स्वस्थ्य और रोग मुक्त रहता है, लेकिन कई बार अच्छी डाइट फॉलो करने पर भी कोई फायदा नहीं होता। इसका कारण है छोटी-छोटी गलतियां। कुछ फलों और सब्जियों का सेवन करने के दौरान अनजाने में जरूरी बातें नजरअंदाज कर दी जाती हैं। जिस वजह से शरीर को मिलने वाले पौषक तत्व नहीं मिल पाते। जैसे कि कुल फलों और सब्जियों को छिलकर खाना। जिन छिलको को आप कचरा समझ कर फेंक देते हैं, वही छिलके ढेर सारे गुणों से भरे हुए होते हैं। आइए आज हम आपको ऐसे फलों और सब्जियों के बारे में बताते हैं जिन्हें बिना छिले खाने से शरीर को कई फायदे होते हैं।

आम : आम का छिलका वजन कम करने में मदद करता है जबकि इसके पल्प से ऐसा असर नहीं होता। इसके छिलके में ओमेगा 3 और 6 एसिड भी भरपूर होते हैं। इसके छिलके में एंटीऑक्सीडेंट क्वर्सेटिन होता है जो कैंसर से बचाता है।

Loading...

चीकू : यह एक ऐसा फल है जो अपनी मिठास और कई गुणकारी पोषक तत्वों की वजह से जाना जाता है। इस फल में सुक्रोज-फ्रक्टोज तत्व पाए जाते हैं जो शरीर को ऊर्जा और स्फूर्ति देने का काम करते हैं। इसके अलावा चीकू में विटामिन ए, बी कॉम्प्लेक्स, सी और ई की भरपूर पाई जाती है। इसे बिना छिले खाना शरीर के लिए अधिक फायदेमंद होता है।

loading...

सेब : अक्सर लोग सेब को छिलकर खाना पसंद करते हैं लेकिन इससे छिलके में मौजूद फाइबर शरीर तक नहीं पहुंच पाता। इसके छिलके में पल्प से 4 गुना ज्यादा विटामिन K होता है जो ब्लड क्लॉट में मदद करता है। छिलका निकाल देने से इसमें मौजूद विटामिन ए और सी का भी नुकसान होता है। एक एंटीऑक्सीडेंट क्वर्सेटिन जो सांस की बीमारियों से बचाता है, ज्यादा सेब के छिलके में ही होता है।

बैंगन : इसमें मौजूद नैसोनिन एंटीऑक्सीडेंट ही इसे बैंगनी रंग देता है। ये बॉडी को दिमागी और नर्वस सिस्टम में होने वाले कैंसर से बचाता है। इसे खाने से उम्र का असर भी कम होता है।

आलू : इसके छिलके में इसके पल्प से 7 गुना ज्यादा कैल्शियम और 17 गुना ज्यादा आयरन होता है। छिलका निकाल देने से आलू में न्यूट्रिएंट्स और फाइबर की मात्रा 90% तक कम हो जाती है। छिलके में मौजूद बीटा कैरोटिन डाइजेशन में मदद करता है और बॉडी का इम्यून सिस्टम भी ठीक रखता है।

गाजर : गाजर में न्यूट्रिएंट्स की मात्रा सबसे ज्यादा इसके छिलके के एकदम नीचे होती है। इसमें बीटा कैरोटिन की मात्रा बहुत होती है जो विटामिन A में कन्वर्ट होकर आंखों को फायदा पहुंचाता है। साथ ही स्किन पर हुए धूप के असर को भी कम करता है।

खीरा : इसके ज्यादातर न्यूट्रिएंट्स जैसे फाइबर, पोटैशियम और एंटीऑक्सीडेंट्स छिलके में ही होते हैं जो डाइजेशन ठीक रखते हैं। खीरे में मौजूद विटामिन K की भी ज्यादा मात्रा इसके छिलके में ही होती है जो बॉडी में प्रोटीन एब्जॉर्ब करने में मदद करता है।

Loading...
loading...