X
    Categories: स्वास्थ्य

रहता है तनाव तो इन 6 चीजों को करें अपनी डाइट में शामिल

लगातार बदलते लाइफस्टाइल का सबसे ज्यादा बुरा असर हमारी सेहत पर पड़ा है। गलत खान-पान से न सिर्फ स्वास्थ्य संबंधी समस्या होने का खतरा बढ़ता है बल्कि यह डिप्रेशन का कारण भी बन सकता है। तनाव या चिंता लेना आसान है लेकिन उससे निकल पाना बहुत मुश्किल होता है। अक्सर तनाव में लोगों से मिलना, उनसे बात करना सब छोड़ देते हैं। एक स्टडी के मुताबिक तनाव की वजह से पेट में कई प्रमुख बदलाव आते हैं, जिससे दिमाग पर भी असर पड़ता है। तनाव से मुक्ति पाने के लिए डाइट का खास ध्यान रखना जरूरी होता है। ऐसे में फाइबरयुक्‍त चीजों का सेवन जैसे दाल, साबुत अनाज, ओट्स और सब्जियों का सेवन फायदेमंद होता है। आइए जानते हैं तनाव से छुटकारा पाने के लिए डाइट में किन-किन चीजों को शामिल करना चाहिए।

काजू: तनाव की स्थिति से निकलने के लिए काजू का सेवन करना फायदेमंद होता है। क्योंकि काजू जिंक से भरपूर है जो कि डिप्रेशन और बेचैनी को दूर करने में बेहद कारगर है। इसके अलावा बादाम और पिस्ता जैसे नट्स खाने से भी तनाव कम होता है। इन सभी में फैटी एसिड मौजूद होता है जो शरीर को अनचाहे तनाव से बचाता है।

Loading...

लगातार बदलते लाइफस्टाइल का सबसे ज्यादा बुरा असर हमारी सेहत पर पड़ा है। गलत खान-पान से न सिर्फ स्वास्थ्य संबंधी समस्या होने का खतरा बढ़ता है बल्कि यह डिप्रेशन का कारण भी बन सकता है। तनाव या चिंता लेना आसान है लेकिन उससे निकल पाना बहुत मुश्किल होता है। अक्सर तनाव में लोगों से मिलना, उनसे बात करना सब छोड़ देते हैं। एक स्टडी के मुताबिक तनाव की वजह से पेट में कई प्रमुख बदलाव आते हैं, जिससे दिमाग पर भी असर पड़ता है। तनाव से मुक्ति पाने के लिए डाइट का खास ध्यान रखना जरूरी होता है। ऐसे में फाइबरयुक्‍त चीजों का सेवन जैसे दाल, साबुत अनाज, ओट्स और सब्जियों का सेवन फायदेमंद होता है। आइए जानते हैं तनाव से छुटकारा पाने के लिए डाइट में किन-किन चीजों को शामिल करना चाहिए।

loading...

काजू: तनाव की स्थिति से निकलने के लिए काजू का सेवन करना फायदेमंद होता है। क्योंकि काजू जिंक से भरपूर है जो कि डिप्रेशन और बेचैनी को दूर करने में बेहद कारगर है। इसके अलावा बादाम और पिस्ता जैसे नट्स खाने से भी तनाव कम होता है। इन सभी में फैटी एसिड मौजूद होता है जो शरीर को अनचाहे तनाव से बचाता है।

ग्रीन टी: ग्रीन टी मानसिक प्रदर्शन को सुधारने और मस्तिष्क की कोशिकाओं को सक्रिय करने में मदद करती है।

गरम दूध: तनावग्रस्त लोगों को अक्सर नींद न आने की शिकायत रहती है। ऐसी स्थिति में सोने से कुछ देर पहले एक ग्लास गर्म दूध पियें। दूध में ट्राइप्टोफन होता है जिससे नींद आने में मदद मिलती है। साथ ही, इसके उच्च एंटीऑक्सीडेंट्स इम्यूनिटी भी बढ़ाते हैं।

केला: पोटेशियम से भरपूर केला, इस जरूरी खनिज का प्राकृतिक स्रोत है, जो कि दिल की धड़कन को सामान्य करने में मदद करता है, मस्तिष्क तक ऑक्सीजन पहुंचाता है और शरीर में पानी के संतुलन को बनाए रखता है।

Loading...
News Room :

Comments are closed.