Tuesday , September 25 2018
Loading...

पोको एफ1 का प्रचार करते नजर गए शाओमी के अधिकारी

पिछले दिनों ही एक रिपोर्ट आई थी जिसमें दावा किया गया था कि कई बड़ी मोबाइल कंपनियां डीएसएलआर कैमरे से फोटो क्लिक कर रही हैं और उसे फोन के कैमरे से ली गई फोटो बताकर अपने स्मार्टफोन का प्रचार कर रही हैं, वहीं अब शाओमी के एक अधिकारी फर्जी फोटो के साथ पोको एफ1 का प्रचार करते हुए नजर आए हैं और ये कोई और नहीं बल्कि शाओमी के ग्लोबल प्रवक्ता और डायरेक्टर ऑफ प्रोडक्ट मैनेजमेंट डोनोवन सुंग (Donovan Sung) हैं।

दरअसल डोनोवन सुंग ने हाल ही में लांच हुए पोको एफ1 स्मार्टफोन का कैमरा सैंपल फोटो इंस्टाग्राम पर शेयर किया था लेकिन वह फोटो शाओमी के दूसरे स्मार्टफोन एमआई मिक्स 2एस से क्लिक की गई थी। पुरानी फोटो से Shot on Mi MIX 2S AI Dual Camera का वाटरमार्क हटाकर सुंग ने फोटो को पोको एफ1 के नाम से शेयर किया थ आ। यह फोटो रेडिट पर वायरल हो रही है। हालांकि सुंग ने अब पोस्ट को अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से हटा दिया है।

बता दें कि लांचिंग के बाद से ही पोको एफ1 विवादों में है। अभी हाल ही में पोको एफ1 में एक समस्या सामने आई है, वह यह कि इस फोन में एचडी वीडियो प्ले नहीं हो रहा है। इसका खुलासा एंड्रॉयड प्योर की रिपोर्ट में हुआ है। रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि इस समस्या का समाधान सॉफ्टवेयर अपडेट के जरिए नहीं किया जा सकता है। इसके लिए सभी पोको एफ1 को वापस मंगाना होगा और फिर ग्राहकों को नया पोको एफ1 स्मार्टफोन देना होगा।

Loading...

दरअसल यह सब इसलिए हो रहा है कि पोको एफ1 WideVine L1 को सपोर्ट नहीं करता है। इसका मतलब यह है कि आप पोको एफ1 फोन में अमेजॉन, नेटफ्लिक्स जैसे वीडियो स्ट्रिमिंग एप के एचडी वीडियो नहीं देख सकते। बता दें कि वाइडवाइन अलग-अलग डिवाइस पर मौजूद वीडियो कंटेंट को चोरी या पायरेट होने से बचाता है। इसमें तीन सिक्योरिटी लेवल हैं जिनमें एल3, एल2 और एल1 शामिल हैं।

loading...
Loading...
loading...