Saturday , November 17 2018
Loading...

अगस्त 2013 के बाद रुपये में दिखी सबसे बड़ी गिरावट

रुपये में गुरुवार को अगस्त 2013 के बाद अब तक की सबसे बड़ी गिरावट देखने को मिली। रुपया शुरुआती कारोबार में 18 पैसे तक गिर कर अपने अब तक के सबसे निचले स्तर पर खुला। रुपये में गिरावट का दौर आगे भी जारी रहेगा और डॉलर को मजबूती देता रहेगा।

इस साल रुपया अबतक 10 फीसदी टूट चुका है। एक्सपर्ट्स के अनुसार, ऑयल इम्पोर्टर्स और विदेशी बैंकों की तरफ से सरकारी बैंकों द्वारा बिक्री से रुपया गिर गया। डॉलर के मुकाबले रुपया आज 4 पैसे घटकर 70.63 के स्तर पर खुला है।

बाजार खुलने के बाद रुपये ने 70.64 का अब तक का सबसे निचला स्तर छू लिया है। रुपये में कल भी कमजोरी आई थी और ये 70.59 के स्तर पर बंद हुआ था। कारोबार के दौरान डॉलर के मुकाबले रुपए अबतक के सबसे निचले स्तर 70.81 के स्तर पर आ गया है।

Loading...

71 के पार जा सकता है रुपया 

loading...

केडिया कमोडिटी के डायरेक्टर अजय केडिया के अनुसार डॉलर के मुकाबले रुपया आज 70.34 से 71.15 की रेंज में ट्रेड कर सकता है। रुपये के लगातार कमजोर होने से सबसे ज्यादा असर पेट्रोल-डीजल के दामों पर पड़ेगा। कच्चे तेल की लगातार बढ़ती कीमतों का भी असर देखने को मिला। देश में खाने-पीने की चीजों और दूसरे जरूरी सामानों के ट्रांसपोर्टेशन के लिए डीजल का इस्तेमाल होता है। ऐसे में डीजल महंगा होते ही इन सारी जरूरी चीजों के दाम बढ़ेगा।

सेंसेक्स का यह रहा हाल

सेंसेक्स 61 अंकों की गिरावट के साथ 38,662 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। वहीं, एनएसई का 50 शेयरों वाला प्रमुख इंडेक्स निफ्टी 24 अंक यानि 0.2 फीसदी गिरकर 11,668 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। निफ्टी 11,670 के पास नजर आ रहा है जबकि सेंसेक्स 50 अंक गिरा है।

हालांकि मिडकैप और स्मॉलकैप शेयरों में हल्की खरीदारी नजर आ रही है। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 0.3 फीसदी चढ़ा है, जबकि निफ्टी के मिडकैप 100 इंडेक्स में 0.2 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई है। बीएसई का स्मॉलकैप इंडेक्स 0.25 फीसदी बढ़ा है।

दिग्गज शेयरों में एचपीसीएल, आईओसी, एक्सिस बैंक, टेक महिंद्रा, इंडियाबुल्स हाउसिंग, यस बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज, कोटक महिंद्रा बैंक और मारुति सुजुकी 1.8-0.6 फीसदी तक गिरे हैं। मिडकैप शेयरों में आरबीएल बैंक, एल्केम लैब, सीजी कंज्यूमर और एनएलसी इंडिया 1.4-0.9 फीसदी तक लुढ़के हैं।

Loading...
loading...