Saturday , November 17 2018
Loading...

पेट्रोल और डीजल को तत्काल जीएसटी के दायरे में लाया जाए

वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने मंगलवार को पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों के लिए केंद्र की एनडीए सरकार को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि दोनों पेट्रोलियम उत्पादों को तत्काल जीएसटी के दायरे में लाया जाना चाहिए।

एक के बाद एक किए गए अपने ट्वीट में पूर्व वित्त मंत्री ने केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पेट्रोल, डीजल की कीमतों में हो रही लगातार बढ़ोत्तरी को टाला जा सकता है। पेट्रोल और डीजल की कीमतें अत्यधिक करों के कारण बढ़ रही हैं। यदि करों में कटौती की जाए तो कीमतों में भी काफी कमी आएगी। उन्होंने केंद्र सरकार से पेट्रोल और डीजल को तत्काल जीएसटी के दायरे में लाने की मांग की।

चिदंबरम ने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से राज्यों को जिम्म्मेदार ठहराना एक बेतुकी दलील है। भाजपा भूल जाती है कि वह खुद 19 राज्यों में शासन कर रही है। पेट्रोल और डीजल को जीएसटी के दायरे में लाने के लिए केंद्र और राज्यों को मिलकर काम करना चाहिए।

Loading...
Loading...
loading...