Thursday , November 15 2018
Loading...
Breaking News

कॉफी उत्पादकों के लिए कॉफी एप हुआ लांच

केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने मंगलवार को कॉफी कनेक्ट एप और कॉफी कृषि तरंग डिजिटल मोबाइल सेवाएं शुरू कीं। इनसे कॉफी उगाने वाले किसानों को उत्पादन, लाभ में बढ़ोतरी और पर्यावरण से संबंधित जानकारी मिलेगी। साथ ही, केंद्रीय मंत्री ने डाटा एनालिटिक्स, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, ब्लॉकचेन तकनीक से स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट कॉफी बोर्ड के पायलट प्रोजेक्ट को शुरू किया।

वाणिज्य मंत्रालय के मुताबिक, देश के कृषि क्षेत्र में 4.5 लाख हेक्टेयर भूमि में 3.66 लाख किसानों द्वारा कॉफी का उत्पादन  किया जाता है। इनमें से 98 फीसदी छोटे किसान हैं जो कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु में कॉफी उत्पादन से जीवकोपार्जन करते हैं। इसके अलावा आंध्र प्रदेश, ओडिशा और पूर्वोत्तर राज्यों के आदिवासी क्षेत्रों में भी कॉफी उगाई जाती है।

सरकार के कॉफी बोर्ड ने तकनीक के जरिये इन किसानों को सही कीमत मुहैया कराने और मौसम की मार से बचाने में मदद करने का कदम उठाया है। इसके तहत ही एप सहित अन्य उपाय किए गए हैं, जबकि ब्लॉकचेन और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के जरिये अन्य उपाय भी जल्द किए जाएंगे।

Loading...
Loading...
loading...