Friday , September 21 2018
Loading...

पहली तिमाही की वृद्धि दर से देश की आर्थिक बुनियाद की मजबूती पुष्ट हुई : देबरॉय

प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद के चेयरमैन विवेक देबरॉय ने शुक्रवार को कहा कि चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में 8.2 प्रतिशत की आर्थिक वृद्धि दर से यह बात पुष्ट हुई है कि देश की अर्थव्यवस्था आधारभूत रूप से सुदृढ़ बनी हुई है।
अर्थव्यवस्था चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में विनिर्माण एवं कृषि क्षेत्र के अच्छे प्रदर्शन के दम पर 8.20 प्रतिशत की दर से बढ़ी है। देबरॉय ने आर्थिक वृद्धि में तेजी का श्रेय संरचनात्मक सुधार एवं जारी नीतिगत पहलों के प्रभावी क्रियान्वयन को दिया।
देबरॉय के हवाले से एक आधिकारिक बयान में बताया गया है कि बुनियादी ढांचागत क्षेत्र में पूंजीगत खर्च तेज करने पर जोर और जरूरी वस्तुओं एवं सेवाओं की सर्वत्र बराबर उपलब्धता के लिए उठाये गये विभिन्न कदमों ने न केवल इस वृद्धि में योगदान दिया है बल्कि इसकी गुणवत्ता भी बेहतर की है। इसने यह भी सत्यापित किया है कि अर्थव्यवस्था की आधारभूत बाते मजबूत बनी हुई हैं।उन्होंने कहा कि कच्चा तेल की कीमतों में उथल-पुथल तथा अनिश्चित वैश्विक माहौल के बाद भी भारत की मजबूत रही। उन्होंने कहा कि यह वृद्धि मजबूत आधारभूत आर्थिक कारकों के बल पर प्रतिकूल वैश्विक शर्तों से जूझने की देश की अर्थव्यवस्था की क्षमता को भी दर्शाती है।

बयान में कहा गया कि कृषि, विनिर्माण एवं निर्माण में उत्साहवर्धक वृद्धि दर से इस गति का आधार व्यापक रहने का संकेत मिलता है। बयान के अनुसार, अनुकूल मानसून से कृषि उत्पादन बढ़ने तथा आगामी तिमाहियों में ग्रामीण उपभोग मांग बढ़ने का अनुमान है।

Loading...
loading...