Monday , September 24 2018
Loading...
Breaking News

इस बड़े जमीन घोटाले में फंसे पूर्व एडीएम घनश्याम सिंह

गाजियाबाद में करीब डेढ़ करोड़ की जमीन घोटाले में मंडलायुक्त अनीता सी. मेश्राम ने पूर्व एडीएम (भू-अर्जन) घनश्याम सिंह और तत्कालीन तहसीलदार मोदीनगर कमलेश कुमार सिंह के खिलाफ कार्रवाई का आदेश दिया है।

मामला मोदीनगर तहसील के बसंतपुर सैंथली गांव का है। स्थानीय निवासी दिनेश कुमार को 2530 हेक्टेयर जमीन 1983 में कृषि उपयोग के लिए पट्टे पर दी गई थी, जिसमें से एक बीघा जमीन की पावर अटार्नी 1995 में गलत तरीके से दिल्ली निवासी डीके  अग्रवाल के पक्ष में कर दी गई।

डीके अग्रवाल ने 2004 में जमीन का एचएलएम कॉलेज व एचएम एजूकेशन सोसायटी के सुनील मिगलानी निवासी कविनगर के पक्ष में बैनामा कर दिया। शिकायत होने पर 2005 में तत्कालीन एडीएम भू-अर्जन ने पट्टे को निरस्त कर जमीन राज्य सरकार में निहित करने का आदेश पारित किया था।

Loading...

2012 में घनश्याम सिंह ने आदेश को निरस्त कर दिया। मंडलायुक्त मेरठ मंडल ने अपर आयुक्त से जांच कराई तो घोटाला पकड़ में आया। तब डीएम गाजियाबाद को कार्रवाई के लिए लिखा गया है।

loading...
Loading...
loading...