Saturday , November 17 2018
Loading...

नीरज का ऐतिहासिक गोल्ड मेडल तो यहां हुई ‘चांदी’ की बारिश

इंडोनेशिया के जकार्ता और पालेमबंग में चल रहे 18वें एशियन गेम्स का 9वां दिन भारतीय दल के लिए खास रहा। ट्रैक एंड फिल्ड से आज मेडल्स की बौछार हुई। जहां नीरज चोपड़ा ने अपेक्षा के अनुरूप पुरूष भाला फेंक में राष्ट्रीय रिकॉर्ड के साथ गोल्ड जीता तो सुधा सिंह, धारूण अय्यासामी और नीना वराकिल की अपनी-अपनी स्पर्धाओं में चांदी हुई।

इसके अलावा साइना नेहवाल के बैडमिंटन एकल के कांस्य पदक से 9वें दिन के बाद भारत के कुल पदकों की संख्या 41 (8 स्वर्ण, 13 रजत और 20 कांस्य) पहुंच गई। चीन 86 स्वर्ण सहित 191 पदक जीतकर पहले स्थान पर बना हुआ है जबकि भारत नौवें स्थान पर है।

भारतीय एथलेटिक्स के सबसे बड़े स्टार के रूप में उभर रहे जूनियर विश्व चैंपियन नीरज ने अपेक्षानुरूप प्रदर्शन करते हुए 88.06 मीटर के नए राष्ट्रीय रिकार्ड के साथ भाला फेंक का स्वर्ण पदक जीता। वह एशियाई खेलों में भाला फेंक में स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय हैं।

Loading...

बैडमिंटन- सिंधु ने भी उनके साथ रिकार्ड बुक में नाम लिखवाया। वह एशियाई खेलों के बैडमिंटन के एकल के फाइनल में पहुंचने वाली पहली भारतीय हैं। दुनिया की तीसरे नंबर की खिलाड़ी सिंधु ने अकाने यामागुची को सेमीफाइनल में 21-17, 15-21, 21-10 से हराया। जापान की खिलाड़ी के खिलाफ मौजूदा एशियाई खेलों में यह सिंधू की दूसरी जीत है। इससे पहले उन्होंने यामागुची को टीम चैंपियनशिप में भी हराया था।

loading...

ट्रैक एंड फील्ड-  इससे पहले अनुभवी सुधा सिंह ने महिलाओं की 3000 मीटर स्टीपलचेज, अय्यासामी ने पुरूषों की 400 मीटर दौड़ और वराकिल ने महिलाओं की लंबी कूद में रजत पदक जीते। अय्यासामी ने पुरूषों की 400 मीटर बाधा दौड़ में 48.96 सेकेंड का समय लेकर खुद का राष्ट्रीय रिकार्ड तोड़ा।

महिलाओं की लंबी कूद में वराकिल की सर्वश्रष्ठ कूद 6.51 मीटर की रही। उन्होंने चौथे प्रयास में यह दूरी तय की जो रजत पदक जीतने के लिये पर्याप्त थी। अनुभवी सुधा ने महिलाओं की 3000 मीटर स्टीपलचेज में नौ मिनट 40.03 सेकेंड का समय लिया और एशियाई खेलों में अपना दूसरा पदक जीता।

हॉकी- महिला टीम ने पुरूषों का अनुसरण करके सेमीफाइनल में जगह बनाई। कप्तान रानी रामपाल की हैट्रिक की मदद से भारतीय टीम ने थाईलैंड को 5-0 से हराया।

मुक्केबाजी- विकास कृष्ण (75 किग्रा) और अमित पंघाल (49 किग्रा) ने क्वार्टर फाइनल में जगह पक्की की। एशियाई खेलों में लगातार तीसरा पदक जीतने के लक्ष्य के साथ पहुंचे विकास ने पाकिस्तान के तनवीर अहमद को शिकस्त देकर मजबूत शुरूआत की तो वही अमित ने खराब शुरूआत से उबरते हुये मंगोलिया के इनखमानडाख खारहू को हराया।

राष्ट्रीय चैंपियन धीरज रांगी (64 किग्रा) ने भी मंगोलिया के नुरलान कोबाशेव को हराकर अंतिम आठ में प्रवेश किया। हालांकि राष्ट्रमंडल खेलों में कांस्य पदक जीतने वाले मोहम्मद हसमुद्दीन (56 किग्रा) प्री क्वार्टर फाइनल में करीबी मुकाबले में किर्गिस्तान के एन्ख अमर खरखू से हारकर बाहर हो गए।

स्क्वाश- भारत ने महिला और पुरूष वर्ग के ग्रुप चरण में जीत से शुरुआत की। पुरूष टीम ने सुबह इंडोनेशिया को 3-0 से और फिर सिंगापुर को इसी अंतर से हराया जबकि महिला टीम ने ईरान को 3-0 से पराजित किया।

लेकिन साइकिलिंग और कराटे में परिणाम अनुकूल नहीं रहे। साइकिलिंग में भारत की पुरूष और महिला स्प्रिंट और परस्यूट टीमें फाइनल के लिये क्वालीफाई करने में नाकाम रही। कराटे में भारत के दोनों प्रतिभागी शुरू में ही बाहर हो गये।

वॉलीबॉल में भारतीय महिला टीम पूल बी के अपने आखिरी मैच में चीन से 0-3 से हार गयी जिससे उसके अभियान का भी अंत हो गया। पदक की दौड़ से पहले ही बाहर हो चुकी भारतीय सेपकटकरा टीम ने नेपाल को 2-0 से हराकर अपने अभियान का सकारात्मक अंत किया।

Loading...
loading...