X
    Categories: राष्ट्रीय

पुलिस सुरक्षा व्यवस्था को एक बार फिर मिली ये बड़ी चुनौती

पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था को एक बार फिर चुनौती देते हुए अपराधियों ने हल्द्वानी में खौफनाक वारदात को अंजाम दिया है। इस घटना के बाद से क्षेत्र के लोग सहम गए हैं।
हल्द्वानी रामपुर नेशनल हाईवे से मात्र 50 मीटर की दूरी पर मंडी पुलिस चौकी अंतर्गत गोरा पड़ाव इलाके के हरिपुर पूर्णानंद गांव में अज्ञात लोगों ने एक घर में घुसकर महिला पूनम पांडे की गोली मारकर हत्या कर दी गयी। जबकि महिला की बेटी अर्शी भी गोली लगने से गंभीर रूप से घायल है।

बेटी को इलाज के लिए हल्द्वानी के सुशीला तिवारी अस्पताल लाया गया है, जहां उसकी हालत नाज़ुक बनी हुई है। जिस वक्त यह घटना हुई उस वक्त मृतक महिला के पति लक्ष्मी दत्त अपनी मां को देखने के लिए निलकंठ अस्पताल गए थे। लक्ष्मी दत्त पेशे से ट्रांसपोर्टर हैं। घटना के बाद घर से स्कूटी और बंदूक भी गायब है। घर पर पालतू कुत्ता भी मरा हुआ मिला है।

अब तक हत्या के कारणों का पता नहीं चल सका

घटना को सोमवार देर रात को अंजाम दिया गया। लगातार हो रही मूसलाधार बारिश की वजह से आस पास के लोगों की इस वारदात के बारे में नहीं पता चला।

Loading...

सुबह महिला के पति के घर आने पर हत्या और डकैती की घटना का खुलासा हुआ। जिसके बाद घटना की सूचना पूरे इलाके में आग की तरह फैल गई और घटनास्थल पर भीड़ जमा होने लगी। मौके पर पहुंचे आईजी और एसएसपी ने घटना का संज्ञान लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है, हालांकि अब तक हत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है।

loading...

अधिकारियों के मुताबिक हर पहलू से घटना की जांच की जा रही है। उम्मीद है की आरोपी जल्द पुलिस की गिरफ्त में होंगे। आईजी अजय रौतेला, एसएसपी जनमेजय खंडूरी, एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव भी मौक़े पर मौजूद हैं। डॉग स्क्वायड भी छानबीन में जुट गया है। विधायक नवीन दुमका भी घटना स्थल पर पहुंचे।

पूछताछ करती पुलिस
मूल रूप से जवाहरनगर पंतनगर में रहने वाले लक्ष्मी दत्त पांडेय करीब 20 साल से बरेली रोड हाईवे से सटे हरिपुर पूर्णानंद गांव में रहते हैं।

पांच दिन से उनकी वयोवृद्ध मां देवकी देवी की तबियत खराब है, उन्हें नीलकंठ अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

लक्ष्मी दत्त मां की तीमारदारी के लिए सोमवार रात करीब 9 बजे अस्पताल चले गए थे। घर पर उनकी पत्नी पूनम पांडेय और बेटी अर्शी पांडेय थे।

पुलिस जांच में जुटी
मंगलवार सुबह करीब सात बजे लक्ष्मी दत्त घर पहुंचे तो पत्नी और बेटी को खून से लथपथ पाया। उनकी पत्नी पूनम की मौत हो चुकी थी, जबकि बेटी तड़प रही थी।

दोनों को सिर पर भारी हथियार से वार किया गया है। उन्हें गोली भी मारी गई है।

डकैत घर से स्कूटी, नगदी, जेवर आदि सामान ले गए हैं। अभी कितने की डकैती पड़ी इसकी जानकारी नही है।

Loading...
News Room :

Comments are closed.