Monday , November 19 2018
Loading...
Breaking News

कोरिया को 5-3 से हराते हुए सेमीफाइनल में बनाई जगह

18वें एशियन गेम्स के पुरुष हॉकी मुकाबले में भारत ने कोरिया को 5-3 से हराया। पूल-ए में भारत की यह लगातार चौथी जीत है। इस तरह भारतीय हॉकी टीम सेमीफाइनल में जगह बना चुकी है।

भारत की यह लगातार चौथी जीत है। भारत ने इससे पहले इंडोनेशिया को 17-0, हांगकांग को 26-0 और जापान को 8-0 से हराया था। वह अपना आखिरी पूल मैच 28 अगस्त को श्रीलंका के खिलाफ खेलेगी।

भारत के लिए पहला गोल पहले मिनट में रुपिंदर पाल सिंह ने किया। चौथे मिनट में चिंगलेनसाना सिंह ने दूसरा गोल दागा। दूसरे क्वार्टर की शुरुआत में ललित उपाध्याय ने जबरदस्त गोल किया तो 49 और 55 मिनट में क्रमश: मनप्रीत सिंह और आकाशदीप ने गोल किए

Loading...
भारत 5-3 कोरिया
कोरिया को यह लगातार तीसरा पेनल्टी कॉर्नर मिला। इस बार जेंग ने कोरिया के लिए तीसरा गोल दाग भारत की बढ़त को कम करने की कोशिश की।

भारत 5-2 कोरिया

loading...

आकाशदीप ने 55वें मिनट में किया भारत के लिए पांचवां गोल। उनकी रिवर्स हिट से टीम की बढ़त और मजबूत।

भारत 4-2 कोरिया

अकल्पनीय गोल! 50वें मिनट मनप्रीत सिंह का जबरदस्त गोल। जितनी तारीफ की जाए उतनी कम। गोली को डॉज करके मनप्रीत का बैकहैंड शॉट। आकाशदीप, मनप्रीत और दिलप्रीत के सामंजस्य से यह गोल संभव हो पाया।

चौथे और अंतिम क्वार्टर की शुरुआत

भारत 3-2 कोरिया

भारत-कोरिया के आक्रमण और डिफेंस के बीच तीसरे क्वार्टर का अंत। चौथे और अंतिम क्वार्टर क्वार्टर में भारत जहां अपनी बढ़त मजबूत करने की कोशिश करेगा तो कोरिया कम से कम स्कोर बराबर करने के उद्देश्य से टर्फ पर कदम रखेगा।

भारत 3-2 कोरिया

कोरिया के कप्तान का एक और शानदार गोल, 34वें मिनट में अच्छा मूव बनाया और कोरिया के कप्तान ने श्रीजेश को छकाया और दूसरा गोल दागा।

भारत 3-1 कोरिया

कोरिया का पहला गोल, पेनल्टी कॉर्नर का फायदा उठाकर कोरिया ने अंतर कम करने की कोशिश की और इस बार वो कामयाब रहे।

हाफ टाइम तक का खेल खत्म
– पहले हाफ तक भारत ने 3-0 की लीड हासिल कर ली है। हालांकि भारत पेनल्टी कॉर्नर को गोल में बदलने में नाकाम रही है।

– भारत के पेनल्टी कॉर्नर को विफल करते हुए कोरिया का जवाबी आक्रमण।

– 27वें मिनट में भारत को चौथा पेनल्टी कॉर्नर मिला, लेकिन एक बार फिर भारत नाकाम रहा।

– भारतीय डिफेंस इतना मजबूत है कि कोरियन तमाम कोशिशों के बाद भी तोड़ने में नाकाम रही है।

भारत 3-0 कोरिया

….और दूसरे क्वार्टर की शुरुआत होते ही भारतीय टीम ने कमाल कर दिया। सिमरनजीत ने काफी बाहर से ऐरियल शॉट से लॉन्ग पास किया, जहां डी के अंदर पहले से मौजूद ललित उपाध्याय ने हवा में स्टिक लगाकर शानदार डिफलेक्ट करते हुए गोल कर दिया।

पहले क्वार्टर का अंत

-11वें मिनट में भारत के दिलप्रीत सिंह ने एक और सुनहरा मौका गंवाया। भारतीय टीम यहां अपनी बढ़त मजबूत कर सकती थी।

स्कोर
भारत 2-0 कोरिया

…और ये भारतीय टीम का दूसरा गोल। चौथे मिनट में रुपिंदर की तेज तर्रार हिट चिंगलेनसाना सिंह की स्टीक से डिफलेक्ट होकर गोल बॉक्स में समां गई। फिल्ड अंपायर ने वीडियो रेफरी से सलाह मांगते हुए गोल का इशारा किया।

स्कोर
भारत 1-0 कोरिया

….और ये गोल। भारत के स्टार ड्रैग फ्लिकर रुपिंदर पाल सिंह ने बिना किसी गलती के गेंद गोलपोस्ट के अंदर डाली।

-भारत को पेनल्टी स्ट्रोक, पेनल्टी कॉर्नर में गोल नहीं हो पाया लेकिन रेफरी ने पेनल्टी स्ट्रोक का इशारा किया।

-पहले ही मिनट में भारत का आक्रमण। भारतीय टीम पेनल्टी कॉर्नर अर्जित करने में सफल रही।

नमस्कार अमर उजाला डॉट कॉम में आपका स्वागत है।

Loading...
loading...