Friday , April 26 2019
Loading...
Breaking News

झज्जर रोड पर दुकान के विवाद का मामला आया सामने

आर्य नगर थाना प्रभारी महिला इंस्पेक्टर सुनीता का रोहतक से पंचकूला तबादला कर दिया गया है। माना जा रहा है कि महिला इंस्पेक्टर की तीन-चार दिन पहले झज्जर रोड के दुकान प्रकरण में एक व्यापारी नेता गुलशन निझावन से कहासुनी हो गई थी। मामला सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर तक पहुंचा। गुरुवार को पुलिस मुख्यालय से जो सूची जारी हुई, उसमें महिला इंस्पेक्टर सुनीता का तबादला पंचकूला किया गया है।

झज्जर रोड पर कांग्रेस नेता एवं पूर्व मंत्री कृष्णमूर्ति हुड्डा की दुकानें हैं, जिनको 50 साल पहले किराए पर दिया गया था। एक दुकान की छत 22 जुलाई की रात को गिर गई थी। इस संबंध में दुकान के किराएदार कपिल गांधी ने आर्य नगर थाने में पूर्व मंत्री व उसके ड्राइवर के खिलाफ शिकायत दी थी। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया, लेकिन कार्रवाई के नाम पर कुछ नहीं किया गया। तीन दिन पहले दुकानदार ने टूटी छत पर तिरपाल डाल लिया और पुलिस की मौजूदगी में लोहे की चादर डालने लगा। पूर्व मंत्री ने इसका विरोध किया।

मामला तूल पकड़ते देखकर आर्य नगर थाना प्रभारी सुनीता मौके पर पहुंच गईं। पालिका बाजार के प्रधान गुलशन निझावन ने बताया कि वहां पर थाना प्रभारी दुकानदार की बजाय दूसरे पक्ष के समर्थन में बोल रही थीं। जब उनसे न्याय मांगा गया तो उनसे ही कहासुनी करने लगीं। जब उसने वीडियो फिल्म बनाना शुरू किया तो एक तरफ चली गईं। पूरे मामले से सहकारिता मंत्री को अवगत कराया गया। इसके बाद उनका महिला इंस्पेक्टर का तबादला हुआ है। वहीं, डीएसपी रमेश कुमार का कहना है कि ऐसा कुछ नहीं है। महिला इंस्पेक्टर का तबादला सामान्य प्रक्रिया का हिस्सा है।

loading...