Thursday , November 15 2018
Loading...

पतंजलि के ‘किंभो’ चैट एप में कई खामियां

पतंजलि द्वारा ‘किंभो’ चैट एप को दुबारा लांच करने की घोषणा के बाद, जिन यूजर्स ने यह एप डाउनलोड किया है, उन्होंने कई खामियों की जानकारी दी है, जिसमें प्रोफाइल पिक्टर सेट करने में परेशानी और घटिया यूजर इंटरफेस (यूआई) प्रमुख है। गूगल प्ले स्टोर पर दुबारा आने के बाद इस एप को 5,000 से अधिक बार डाउनलोड किया गया, जबकि इसके आधिकारिक लांच की तारीख 27 अगस्त रखी गई है।

एक यूजर ने लिखा, “क्या यह एक मजाक है? अब तक का सबसे घटिया यूआई, इतना बुरा एप इससे पहले नहीं देखा.।”

Loading...

दूसरे यूजर ने लिखा, “जब मैं पंजीकरण कर रहा हूं तो यह कह रहा है, ‘बाद में करें’। क्या यह है यह? कूड़ा?”

loading...

इस एप को डाउनलोड करने के बाद यह यूजर्स से आठ तरह की अनुमति मांगता है, जिसमें मोबाइल में उपलब्ध फोटो, मीडिया और फाइलों, कांटैक्स, कैलेंडर और इवेंट्स, फोन कॉल का प्रबंधन और करना, माइक्रोफोन का प्रबंधन, एसएमएस मंगवाना भेजना जैसी अनुमतियां शामिल हैं।

इस एप के परीक्षण संस्करण की निजता नीति में कहा गया है कि वह निजी सूचनाओं को थर्ड पार्टी सेवा प्रदाताओं से साझा नहीं करेगी, हालांकि किंभो सेवा में सुधार करने, उसकी मरम्मत करने आदि के लिए जरूरत पड़ने पर साझा कर सकती है।

Loading...
loading...