Monday , September 24 2018
Loading...
Breaking News

इस सौदे पर अनिल अंबानी ने राहुल को लिखा खत, जाने क्या हो सकते है कुछ एहम फैसले

रिलायंस समूह के अध्यक्ष अनिल अंबानी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को खत लिखकर कहा है कि राफेल लड़ाकू विमान सौदे के मामले में दुर्भावनापूर्ण निहित हितों और कॉर्पोरेट प्रतिद्वंद्वियों द्वारा पार्टी को “गलत सूचना, भ्रामक जानकारी दी गई है और गुमराह किया गया है।” रिलायंस इंफ्रास्ट्रकचर लि. द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि अंबानी ने पिछले हफ्ते गांधी को पत्र लिख कर “निरंतर व्यक्तिगत हमलों पर गहरी पीड़ा व्यक्त करते हुए” सभी आरोपों को “आधारहीन, भ्रामक और दुर्भाग्यपूर्ण” करार दिया है।

इस सौदे में रिलांयस की भूमिका पर स्पष्टीकरण देते हुए अंबानी ने लिखा है कि राफेल जेट्स का निर्माण रिलायंस या दासाल्ट रिलायंस संयुक्त उद्यम द्वारा नहीं किया जाएगा।

Loading...

अंबानी ने कहा है कि गांधी ने आरोप लगाया है कि रिलायंस डिफेंस की स्थापना सरकार द्वारा 10 अप्रैल, 2015 के फ्रांस के राफेल जेट खरीदने के फैसले से 10 दिन पहले की गई, जोकि पूरी तरह गलत जानकारी है।

loading...

अंबानी ने कहा है, “रिलायंस समूह ने राफेल सौदे से महीनों पहले दिसंबर 2014-जनवरी 2015 में रक्षा उत्पदान कारोबार में उतरने की घोषणा की थी और शेयर बाजार को 2015 के फरवरी में इस बारे में सूचित किया गया।”

अंबानी ने कहा है कि सभी 36 लड़ाकू विमानों का 100 फीसदी उत्पादन फ्रांस में किया जाएगा और वहां से भारत आयात किया जाएगा।

अंबानी ने स्पष्ट किया कि इन विमानों के एक रुपये मूल्य के भी पूर्जो का निर्माण रिलायंस नहीं करेगी।

उन्होंने कहा कि इस सौदे में हमारी भूमिका सीमित है और 100 से ज्यादा सूक्ष्य, लघु और मध्यम (एमएसएमई) कंपनियों, बीईएल और डीआरडीओ जैसी सरकारी कंपनियों के साथ हमारी भूमिका इस सौदे में काफी सीमित है।

Loading...
loading...