Monday , December 17 2018
Loading...

गौरक्षक ने किया था उमर खालिद पर हमला

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जेएनयू छात्र नेता उमर खालिद पर 13 अगस्त को जानलेवा हमला करने वाले आरोपी की पहचान कर ली है। आरोपी हरियाणा के झज्जर का रहने वाला गौरक्षक है।

उसकी मोबाइल की लोकेशन हमले वाले दिन कॉस्टीट्यूशन क्लब के पास आई है। आरोपी ने साथी के साथ सोशल मीडिया पर वीडियो लोड कर सरेंडर करने की बात कही थी, मगर उसने रविवार शाम तक सरेंडर नहीं किया।

स्पेशल सेल के एक वरिष्ष्ठ अधिकारी ने बताया कि उमर खालिद पर हमले करने वाले आरोपी का नाम नवीन दलाल है। वह हरियाणा के झज्जर में स्थित गांव मंनौती का रहने वाला है। आरोपी खुद के गौरक्षक होने का दावा करता है।

Loading...

बताया जा रहा है कि उसके साथी भी गौरक्षक हैं। स्पेशल सेल सेल की जांच में ये बात सामने आ गई है कि आरोपी उमर खालिद पर हमले वाले दिन दिल्ली के कॉस्टीट्यूशन क्लब में था।

loading...
नवीन के मोबाइल लोकेशन के अलावा अन्य बातों से ये स्पष्ट हो गया है। पुलिस की जांच में ये बात भी सामने आई है कि आरोपी उमर खालिद पर हमले वाले दिन से ही अपने गांव से फरार है।

दिल्ली पुलिस की टीम उसे पकड़ने के लिए हरियाणा, पंजाब व दिल्ली में दबिश दे चुकी है। दिल्ली पुलिस के अलावा हरियाणा पुलिस भी आरोपी की तलाश कर रही है। हरियाणा पुलिस की कई टीमें हरियाणा व पंजाब में दबिश दे रही हैं।

हमले की ले चुका है जिम्मेदारी
नवीन दलाल ही अपने शाहपुर गांव निवासी दरवेश शाहपुर के साथ सोशल मीडिया पर वीडियो लोड कर उमर खालिद पर हमले की जिम्मेदारी ले चुका है। आरोपियों का कहना था कि देश के लोगों को स्वतंत्रता दिवस पर गिफ्ट देने के लिए उमर खालिद पर हमला किया।

आरोपियों ने कहा था कि वह क्रांतिकारी करतार सिंह सराबा के गांव सराबा, लुधियान में पुलिस के समक्ष सरेंडर कर देंगे। मगर दोनों ने रविवार शाम तक सरेंडर नहीं किया।

पहले वीडियो को मजाक मान रही थी पुलिस

शुरू में पुलिस इस वीडियो को मजाक मान रही थी। अब जांच में ये बात सामने आग गई है कि नवीन दलाल ने ही उमर खालिद पर हमला किया था। पुलिस अधिकारियों के अनुसार हमले की इस साजिश को पहले प्रोपगेंडा माना जा रहा था। मगर जांच में ये साबित हो गई है कि उमर खालिद पर जानबूझकर हमला किया गया है।
Loading...
loading...