Monday , February 18 2019
Loading...

आवामी नेशनल पार्टी के नेता ने सरकार पर उठाए सवाल

पाकिस्तान के नए वजीर-ए-आजम का पद सम्भालते ही इमरान खान की मुश्किलें बढ़ती लग रही हैं. अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ घानी ने गजनी शहर पर हुए तालिबानी हमले में पाकिस्तान से जवाब मांगा है. अफगानी अधिकारियों ने दावा किया है कि पिछले दिनों अफगानिस्तान के दक्षिण-पूर्वी शहर गजनी सेना और तालिबान आतंकियों के बीच हुई लड़ाई में मारे गए लगभग 400 तालिबानियों में से कई आतंकी पाकिस्तानी नागरिक हैं.

गजनी शहर के गवर्नर वहीदुल्लाह कलीमजई ने बताया कि, “गजनी में तालिबानी हमले में 400 से ज्यादा आतंकी मारे गए थे, जिनमें 70 पाकिस्तानी नागरिक हैं. उन सभी के शव पाकिस्तान को सौंपने की कार्यवाही की जा रही है.”

उन्होंने आगे कहा कि मारे गए आतंकियों में दूसरे देशों के भी कई आतंकी शामिल हैं. तालिबान से हुई लड़ाई में लगभग 100 अफगानी सैनिक शहीद हुए हैं और सैकड़ों आम नागरिक मारे गए हैं. अफगानी रक्षा मन्त्रालय के प्रवक्ता सईद गाफूर अहमद जावेद ने भी आतंकियों में पाकिस्तानी नागरिकों के शामिल होने की पुष्टि की है और बताया है कि “मामले की जांच की जा रही है. जांच पूरी होने पर पाकिस्तान, हमारे अन्तर्राष्ट्रीय सहयोगी देशों और संयुक्त राष्ट्र को जांच रिपोर्ट सौंप दी जाएगी.”

अफगानी सेना प्रमुख जनरल मोहम्मद शरीफ यफ्तालि ने पाकिस्तान पर आरोप लगाया है कि गजनी शहर पर तालिबानी कब्जे के पीछे भी पाकिस्तान का हाथ है. उन्होंने आगे कहा कि अन्तर्राष्ट्रीय आतंकवाद पाकिस्तान से ही पैदा होता है. वहीं आतंकियों को हथियार दिए जाते हैं और वहीं उनको ट्रेनिंग दी जाती है.

पाकिस्तान ने सिरे से आरोप नकारे
पाकिस्तान के विदेश मन्त्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैजल ने अफगानिस्तान द्वारा लगाए गए सभी आरोपों को नकारते हुए कहा है कि, ‘इस आरोप का कोई सबूत नहीं है कि मारे गए आतंकियों में पाकिस्तानी नागरिक भी थे. उन्होंने आगे कहा कि हम गजनी शहर में हुए हमले की निन्दा करते हैं और अफगानिस्तान में शान्ति बहाली चाहते हैं.’

वहीं पाकिस्तान के ही कोहट इलाके से सीनेटर और आवामी नेशनल पार्टी के सदस्य अफ्रस्याब खट्टक ने अपनी सरकार से जवाबतलब करते हुए कहा है कि, “हमले में मारे गए जिन आतंकियों के शरीर पाकिस्तान लाए गए हैं उनकी तस्वीरों के साथ कई पाकिस्तानी गुट खुलेआम लोगों से उनके जनाजे में शामिल होने की अपील कर रहे हैं.”

loading...