Wednesday , September 19 2018
Loading...

रूस का विदेश मंत्रालय बोला: मॉस्को ईरान के परमाणु समझौते को क्रियान्वित करने के लिए उठाए कदम

रूस के विदेश मंत्रालय का कहना है कि मॉस्को ईरान के परमाणु समझौते को संरक्षित और क्रियान्वित करने के लिए हरसंभव कदम उठाने को लेकर प्रतिबद्ध है। इस समझौते को संयुक्त समग्र कार्ययोजना (जेसीपीओए) भी कहा जाता है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, मंत्रालय ने बयान में कहा, “रूस जेसीपीओए के तहत अपनी प्रतिबद्धताओं को लगातार जारी रखता है .. हम जेसीपीओए को संरक्षित और पूरी तरह से लागू करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाने के लिए हमारी निर्णायक प्रतिबद्धता दोहराते हैं।”

Loading...

बयान में कहा गया कि रूस का ‘रोजेटॉम स्टेट न्यूक्लियर एनर्जी कॉर्पोरेशन’ जेसीपीओए की आवश्यकताओं के अनुपालन को सुनिश्चित करने के लिए तैयार परियोजनाओं को कार्यान्वित कर रहा है।

loading...

जेसीपीओए समझौता 2015 में ईरान और रूस, फ्रांस, चीन, ब्रिटेन, अमेरिका व जर्मनी के बीच हुआ था।

मई में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने समझौते से अलग होने की घोषणा की थी और उसके बाद से अमेरिका, ईरान पर कई प्रतिबंध लगा चुका है और आगे भी और ज्यादा प्रतिबंध लगाने की बात कही है।

Loading...
loading...