Monday , November 19 2018
Loading...

ट्रंप पर अखबारों ने शुरू किया संपादकीय हमला

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा देश के समाचार पत्रों को फर्जी और पत्रकारों को जनता का दुश्मन कहे जाने के बाद बृहस्पतिवार को अखबारों ने ट्रंप के खिलाफ श्रंखलाबद्ध संपादकीय लिखे। न्यूयॉर्क टाइम्स के पत्रकार गेल कोलिंस ने संपादकीय को शुरू करते ही लिखा कि मैं इस बात को लेकर चिंतित हू्ं कि जब मेरी मौत होगी तो मेरी श्रद्धांजलि में कहा जाएगा कि किसी समय मुझे डोनाल्ड ट्रंप ने ‘एक कुत्ता’ कह चुके हैं।

बोस्टन ग्लोब ने देश के अखबारों को प्रेस के लिए खड़े होने और इस संबंध में संपादकीय प्रकाशित करने को कहा था। ग्लोब के ओपेड संपादक मार्जोरी प्रिचर्ड के मुताबिक, करीब 350 समाचार संगठनों ने इसमें शामिल होने की बात कही।

सेंट लुईस में पोस्ट डिस्पैच ने संवाददाताओं से ‘सच्चा देशभक्त’ बनने का आव्हान किया। द शिकागो सन-टाइम्स ने बताया कि यह माना जा रहा है कि अधिकांश अमेरिकी जानते हैं कि ट्रंप अनर्गल बात कर रहे हैं। एनसी ऑब्जर्वर के फयेट्टेविल ने कहा, हमें उम्मीद है कि ट्रंप रुक जाएंगे लेकिन ज्यादा उम्मीद नहीं लगाई जा सकती है।

Loading...

नार्थ कैरोलिना के समाचारपत्र ने कहा, ‘इसके बजाए, हम उम्मीद करते हैं कि सभी राष्ट्रपति के समर्थकों को इस बात का एहसास होगा कि वे क्या कर रहे हैं। वह जो चाह रहे हैं इसके लिए वास्तविकता से छेड़छाड़ कर रहे हैं।’ कुछ समाचार पत्रों ने अपने मामले को बताने के लिए इतिहास से मिले सबक का इस्तेमाल किया है। ऐसे समाचार पत्रों में एलिजाबेथटाउन पेन से प्रकाशित होने वाली एलिजाबेथ एडवोकेट शामिल है।

loading...
Loading...
loading...