Friday , November 16 2018
Loading...

केजरीवाल ने धर्म बैर पर रखा अपना मत

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर देशवासियों को याद दिलाया कि कोई धर्म हमें बैर करना नहीं सिखाता। केजरीवाल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की बधाई देते हुए उन्हें जाति, धर्म और जाति के बंधनों से आजादी पाने का आह्रान किया।

केजरीवाल ने उर्दू भाषा के कवि मोहम्मद इकबाल के दोहे ‘सारे जहां से अच्छा हिंदोस्तां हमारा’ की पंक्तियां साझा करते हुए कामना की कि देश को हर क्षेत्र में विकास करना चाहिए और हर क्षेत्र में शांति स्थापित होनी चाहिए।

Loading...

केजरीवाल ने हिंदी में ट्वीट करते हुए कहा, “मजहब नहीं सिखाता, आपस में बैर रखना, हिंदी हैं हम वतन है, हिंदोस्तां हमारा। भगवान करे हमारा मुल्क खूब प्रगति करे, चारों तरफ अमन चैन हो।”

loading...

सिसोदिया ने भी ट्विटर पर देशवासियों को बधाई देते हुए कहा कि मात्र राजनीतिक स्वतंत्रता से देश स्वतंत्र नहीं हो जाता।

उन्होंने कहा, “इस अवसर पर हमें यह समझना चाहिए कि आजाद देश मात्र स्वतंत्र राजनीति से नहीं कहलाता। जाति, धर्म की लड़ाई और महिलाओं के प्रति संकीर्ण मानसिकता से आजादी ही देश की सच्ची आजादी है।”

Loading...
loading...