X
    Categories: स्पोर्ट्स

जोश में आकर ये क्‍या ये कर बैठे विराट ?

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में दो स्पिनर्स को टीम में शामिल कर सभी को हैरान कर दिया। पहले टेस्ट मैच के दौरान भारतीय टीम सिर्फ आर अश्विन के साथ मैदान में उतरी थी। लॉर्ड्स की पिच तेज गेंदबाजों की मददगार मानी जाती रही है। हालांकि, भारतीय पूर्व स्पिनर अनिल कुंबले ने इसी पिच पर इंग्लैंड के बल्लेबाजों को खासा परेशान किया था। विराट कोहली ने इस मैच में कुलदीप यादव के रूप में टीम में दूसरा स्पिनर शामिल किया। तीसरे दिन भारतीय गेंदबाजों से उम्मीद थी कि वह इंग्लैंड के बल्लेबाजों को कम से कम रन पर ऑल आउट कर मैच में वापसी करेंगे। इंग्लैंड की शुरुआत अच्छी नहीं रही और 89 रनों पर टीम ने अपने चार विकेट गंवा दिए। वहीं दूसरे सत्र में इंग्लैंड ने एक विकेट खोया, लेकिन इसी सत्र में वोक्स और बेयर्सटो ने विकेट पर अपने पैर जमा लिए और चायकाल की घोषणा तक अर्धशतक भी पूरे कर लिए। तीसरे सत्र में वोक्स ने अपना पहला टेस्ट शतक पूरा किया। वोक्स ने पांड्या द्वारा फेंके गए 71वें ओवर की आखिरी गेंद पर तीन रन लेकर सैंकड़ा पूरा किया।

हालांकि बेयर्सटो शतक से सात रनों से चूक गए। उन्हें हार्दिक पांड्या ने तीसरे सत्र में 320 के कुल स्कोर पर आउट किया। बेयर्सटो ने अपनी पारी में 144 गेंदों का सामना करते हुए 12 चौके लगाए। वोक्स ने अभी तक नाबाद हैं। कुलदीप यादव का जादू पहली पारी में ना के बराबर रहा। अपने 9 ओवर के दौरान कुलदीप ने बिना कोई विकेट लिए 44 रन खर्चे। कुलदीप यादव ने इससे पहले वनडे और टी-20 मैच सीरीज में इंग्लैंड के बल्लेबाजों को खासा परेशान किया था।
दिग्गजों के मुताबिक कुलदीप यादव को टीम में शामिल करना विराट कोहली की गलती मानी जा सकती है। पिच और मौसम को देखते हुए टीम को चार तेज गेंदबाजों को उतारना चाहिए था। ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी के अलावा उमेश यादव को भी कप्तान को मौका देना चाहिए था। वहीं गेंद और बल्ले दोनों से हार्दिक पंड्या का लगातार फ्लॉप होना भी टीम की कई मुश्किलों को बढ़ाने का काम कर रही है।
Loading...
News Room :

Comments are closed.