Tuesday , December 18 2018
Loading...

गर्मियों में ठंडा बने रहना है तो फॉलो करें ये टिप्स

गर्मियां आ चुकी हैं। इस मौसम में पेट संबंधी बीमारियों का खतरा काफी ज्यादा होता है। गर्मी या लू लग जाने की वजह से भी पेट में दर्द आदि की समस्या होती है। ऐसे में अपने आपको बचाकर रखने की जरूरत है। अपने खान-पान पर भी ध्यान देने की जरूरत है। ऐसे फूड्स जो पाचन के लिए भारी-भरकम होते हैं उनके सेवन से बचना जरूरी है। आज हम आपको बताने वाले हैं कि किस तरह के फूड्स से गर्मियों में परहेज करना चाहिए और क्या-क्या सावधानी बरतनी चाहिए।

Related image

अपने आपको हाइड्रेटेड रखें – खूब पानी पीने की आपकी आदत आपको तकरीबन 90 प्रतिशत बीमारियों से बचा सकती है। गर्मियों में आप जहां कही भी जाएं अपने साथ दो बेतल पानी जरूर रखें। हर दिन दो लीटर पानी पीने का टार्गेट रखें।

Loading...

फाइबर की मात्रा बढ़ाएं – अपनी डाइट में फाइबर युक्त फूड्स की मात्रा बढ़ा लें। यह आपके पाचन के लिए सही होता है। हरी पत्तेदार सब्जियों, साबुत अनाज और फलों का सेवन करें।

loading...

कॉफी कम पिएं – ज्यादा कॉफी पीना आपके पाचन तंत्र की कार्यप्रणाली पर बुरा असर डालता है। इससे पेट संबंधी बीमारियां जैसे – स्टमक अल्सर, एसिडिटी और सीने में जलन जैसी समस्याएं होती हैं।

इनके अलावा कुछ फूड्स ऐसे होते हैं जो गर्मियों में आपके पेट को ठंडा रखते हैं। इससे भी कई तरह की समर डिसीज से बचा जा सकता है। ये कुछ आयुर्वेदिक टिप्स हैं जो आपको गर्मियों में भी ठंडा रखने में मदद करते हैं।

गर्मी देने वाले फूड्स से परहेज – गर्मियों में ऐसे फूड्स से परहेज करें जो शरीर में गर्मी पैदा करें। साइट्रस फूड्स, चुकंदर और गाजर जैसे फल शरीर को गर्म रखते हैं। इसके अलावा लहसुन, मिर्च, टमाटर, खट्टे मक्खन और नमकीन पनीर से भी परहेज करें।

गर्म पेय पदार्थों से दूर रहें – गर्म पेय पदार्थों को पीने से पित्त दोष को बढ़ावा मिलता है। कमरे के तापमान पर रखे पेय पदार्थ पिएं।

सही समय पर खाएं – लंच टाइम दिन का ऐसा वक्त होता है जब आपका पाचन तंत्र सबसे बेहतर काम कर रहा होता है। ऐसे में इस दौरान भोजन करने से पेट संबंधी किसी भी समस्या को आराम से दूर रखा जा सकता है।

ठंडा रखने वाले फूड्स खाएं – पानी से भरे फलों आदि का सेवन गर्मियों में सेहत के लिए सही होता है। ऐसे में तरबूज, सेब, आलूबुखारा, बेरीज, ब्रोकली, स्प्राउट्स और खीरा का सेवन बेहद फायदेमंद होता है।

Loading...
loading...