Monday , September 24 2018
Loading...
Breaking News

आर्थिक वृद्धि की उम्मीद से बाजार ने हासिल करी रिकॉर्ड ऊंचाई

बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स आज 137 अंक की बढ़त के साथ पहली बार 38,000 अंक के ऊपर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी लगातार पांचवें दिन मजबूती के साथ रिकॉर्ड ऊंचाई पर बंद हुआ। भारत की मजबूत वृद्धि की कहानी को लेकर उम्मीद वैश्विक व्यापार को लेकर चिंता पर भारी रही।
Image result for आर्थिक वृद्धि की उम्मीद से बाजार ने हासिल करी रिकॉर्ड ऊंचाई

बैंक शेयरों में तेजी बनी रही। सेंसेक्स के शेयरों में आईसीआईसीआई बैंक 4.64 प्रतिशत की तेजी के साथ सर्वाधिक लाभ में रहा। उसके बाद एक्सिस बैंक तथा एसबीआई का स्थान रहा जो क्रमश: 3.86 प्रतिशत तथा 2.53 प्रतिशत मजबूत हुए।

कारोबारियों के अनुसार कंपनियों के बेहतर वित्तीय परिणाम के बीच विदेशी और घरेलू पूंजी प्रवाह से धारणा को बल मिला। तीस शेयरों वाला सेंसेक्स ऐतिहासिक 38,000 अंक के स्तर को पार कर गया। यह पूरे कारोबार में सकारात्मक रहा और अंत में 136.81 अंक या 0.36 प्रतिशत की बढ़त के साथ 38,024.37 अंक पर बंद हुआ। यह कल रिकॉर्ड 37,887.56 अंक पर बंद हुआ था।

Loading...

सूचकांक 11 सत्रों में 37,000 अंक से 38,000 अंक के स्तर पर पहुंचा है। सेंसेक्स 26 जुलाई को 37,000 के स्तर पर पहुंचा था। नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी 20.70 अंक या 0.18 प्रतिशत की बढ़त के साथ 11,470.70 अंक पर बंद हुआ। यह कल 11,450 की ऊंचाई पर बंद हुआ था।

loading...

शुद्ध आधार पर अस्थायी आंकड़ों के अनुसार विदेशी पोर्टफालियो निवेशकों (एफपीआई) ने कल 568.63 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे जबकि घरेलू संस्थागत निवेशकों (डीआईआई) ने 30.25 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे।

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘कंपनियों के बेहतर वित्तीय परिणाम तथा घरेलू अर्थव्यवस्था वृद्धि संभावना को लेकर उम्मीद व्यापार तनाव को लेकर वैश्विक चुनौतियों पर भारी रही।’’

उन्होंने कहा, ‘‘दूसरी तरफ हाल के समय में कच्चे तेल की कीमत निचले स्तर के आसपास हैं। इसके अलावा विदेशी संस्थागत निवेशकों का घरेलू शेयर बाजारों में निवेश बढ़ना बाजार के लिये बेहतर है। निवेशकों की नजर आईआईपी आंकड़े पर है और इसके 5.6 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया गया है जो सकारात्मक है।’’

आईसीआईसीआई के अलावा जिन अन्य प्रमुख शेयरों में तेजी रही, उसमें एक्सिस बैंक (3.86 प्रतिशत), वेदांता (2.56 प्रतिशत), एसबीआई (2.53 प्रतिशत), एनटीपीसी (1.93 प्रतिशत), पावर ग्रिड (1.69 प्रतिशत), कोल इंडिया (1.41 प्रतिशत), टाटा स्टील (1.29 प्रतिशत) तथा इन्फोसिस (1.28 प्रतिशत) शामिल हैं।

वहीं दूसरी तरफ भारती एयरटेल 4.75 प्रतिशत नीचे आया। इसके अलावा ओएनजीसी, कोटक बैंक, इंडस इंड बैंक, एलएंडटी, एचडीएफसी बैंक, हीरो मोटो कार्प, एशियन पेंट्स, मारुति सुजुकी, यस बैंक, सन फार्मा, एचडीएफसी तथा एचयूएल में गिरावट दर्ज की गयी।

चीन के अमेरिका से आयातित 16 अरब डालर के सामान पर शुल्क लगाने के निर्णय से वैश्विक स्तर पर एशियाई बाजारों में मिला-जुला रुख रहा। चीन का शंघाई कंपोजिट सूचकांक 1.83 प्रतिशत और हांगकांग का हैंगसेंग 0.88 प्रतिशत मजबूत हुआ, जबकि जापान का निक्की 0.20 प्रतिशत नीचे आया।

यूरो क्षेत्र में शुरुआती कारोबार में फ्रैंकफर्ट का डीएएक्स 0.48 प्रतिशत मजबूत हुआ तथा पेरिस सीएसी 0.05 प्रतिशत नीचे आया। लंदन का एफटीएसई भी 0.55 प्रतिशत नीचे आया। अमेरिकी शेयर बाजार कल नीचे बंद हुआ।

Loading...
loading...