Monday , November 19 2018
Loading...

भीड़ हिंसा मामले में 13 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट करेगा सुनवाई

हापुड़ में पिछले दिनों हुई भीड़ हिंसा की घटना में मौत के मुंह से निकल पाने में सफल रहने वाले एक व्यक्ति ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर अदालत की निगरानी में एसआईटी जांच कराने की गुहार की है। सुप्रीम कोर्ट इस याचिका पर 13 अगस्त को सुनवाई करेगा। मालूम हो कि गोहत्या में शामिल होने के संदेह पर हुई भीड़ हिंसा की इस घटना में एक व्यक्ति की मौत भी हुई थी।
Image result for भीड़ हिंसा मामले में 13 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट सुनवाई

पीड़ित सैमीउद्दीन की ओर से पेश वकील वृंदा ग्रोवर ने चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय पीठ के समक्ष इस याचिका का उल्लेख करते हुए याचिका पर जल्द सुनवाई की गुहार की। उन्होंने कहा कि हापुड़ में 45 वर्षीय मीट व्यापारी कासिम कुरैशी की मौत को यूपी पुलिस ने रोडरेज की घटना करार दिया है।

उन्होंने कहा कि इस घटना की जांच अदालत की निगरानी में एसआईटी से कराई जानी चाहिए। साथ ही मामले का ट्रायल यूपी से बाहर चलाया जाना चाहिए। जिसके बाद पीठ ने कहा कि याचिका पर 13 अगस्त को सुनवाई होगी। याचिका में मुख्य आरोपी युधिष्ठिर सिंह सिसोदिया सहित अन्य आरोपियों को मिली जमानत भी रद्द करने की मांग की गई है।

Loading...

सनद रहे कि गत 18 जून को हापुड़ में लोगों के एक समूह ने गौहत्या में शामिल होने के संदेह पर 64 वर्षीय सैमीउद्दीन और कासिम कुरैशी ने जमकर पिटाई की। इस घटना में दोनों गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे। बाद में कासिम की मौत हो गई थी।

loading...
Loading...
loading...