Tuesday , November 13 2018
Loading...

उम्मीदवार की जानकारी के लिए की थी रूसी वकील से मुलाकात

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पहली बार स्वीकार किया है कि उनके बेटे डोनाल्ड ट्रंप जूनियर ने रूसी वकील से विपक्षी उम्मीदवार की जानकारी एकत्रित करने के लिए मुलाकात की थी। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा है कि वह बातचीत कानूनन सही थी और उसमें कुछ भी गलत नहीं था। बता दें कि यह बैठक न्यूयॉर्क स्थित ट्रंप टावर में की गई थी। माना जा रहा है कि विपक्ष के जिस उम्मीदवार की जानकारी एकत्रित की गई वह हिलेरी क्लिंटन थीं।
Related image

चुनाव प्रभावित करने के लगते रहे हैं आरोप
साल 2016 में अमेरिकी राष्ट्रपति के चुनावों में ट्रंप की जीत के बाद से ही रूसी हस्तक्षेप के आरोप लगते रहे हैं। इस बात का खुलासा बीते साल न्यूयॉर्क टाइम्स अखबार ने भी किया था कि ट्रंप के बेटे ने रूसी वकील नतालिया वेसेलनित्सकाया से मुलाकात की थी। चुनावों के बाद से ही ट्रंप और रूस पर इस तरह के आरोप लगते रहे हैं कि उन्होंने चुनावों को प्रभावित किया था। लेकिन दोनों ही इस बात से इंकार करते रहे हैं। इन आरोपों की जांच के लिए एक कमिटी भी बनाई गई थी।

इसलिए दिया ट्रंप ने बयान
ट्रंप अपने बेटे को लेकर चिंतित थे जिस कारण उन्होंने ट्वीट कर मीडिया को ही गलत बता दिया। उनके ट्वीट करने से एक दिन पहले ही मीडिया में खबरें आ रही थीं कि रूसी वकील से मुलाकात करने के बाद उनके बेटे कानूनी पचड़ों में फंस सकते हैं। इसके बाद ट्रंप ने रविवार को ट्वीट किया। ट्रंप ने जवाब देते हुए कहा कि ‘फेक न्यूज मीडिया झूठी खबर चला रहा है कि मैं अपने बेटे की ट्रंप टावर में हुई मीटिंग को लेकर चिंतित हूं। यह मीटिंग विपक्ष के एक उम्मीदवार की जानकारी लेने के लिए की गई थी। यह पूरी तरह कानूनी है और राजनीति में हमेशा से ही ऐसा होता आया है।’

Loading...

ट्रंप जूनियर ने कई बार बदला बयान

जहां ट्रंप का कहना है कि ये मीटिंग एक विपक्षी उम्मीदवार की जानकारी एकत्रित करने के उद्देश्य से की गई थी तो वहीं उनके बेटे का कुछ और ही कहना है। पहले तो ट्रंप जूनियर ने साल 2017 में कहा था कि नतालिया के साथ उनकी मुलाका का एजेंडा अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव नहीं बल्कि रूसी बच्चों को गोद लेने संबंधी एक कार्यक्रम था। जो कि बंद पड़ा है। इसके बाद उन्होंने कहा कि वह मीटिंग के लिए इसलिए तैयार हुए क्योंकि उन्हें हिलेरी क्लिंटन से जुड़ी अहम जानकारी मुहैया कराने के लिए कहा गया था।

loading...
विपक्ष का कहना है कि जूनियर ट्रंप ने तोड़ा है कानून
यूं तो अमेरिका में चुनावों के दौरान विपक्षी उम्मीदवारों की जानकारी एकत्रित करना एक आम बात है। लेकिन कानून के जानकारों के मुताबिक चुनावों के दैरान किसी बाहरी व्यक्ति से मुलाकात करना कानून को तोड़ना है। ऐसा ही किया था ट्रंप जूनियर ने। अमेरिका का कानून कहता है कि चुनाव अभियान से जुड़ा कोई भी व्यक्ति किसी विदेशी से कोई मदद या जानकारी नहीं ले सकता है। ट्रंप के बचाव में उनके वकीलों का कहना है कि उन्हें ऐसी कोई जानकारी नहीं प्राप्त हुई है जिससे कि ये साबित हुआ हो कि इस मीटिंग से हिलेरी को कोई नुकसान हुआ है।
Loading...
loading...