Thursday , November 15 2018
Loading...

लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस पार्टी को मिला ट्रंप कार्ड, जाने कौन है वो

राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस मुख्यालय में शनिवार (04 अगस्‍त) को कांग्रेस पार्टी कार्यसमिति की मीटिंग हुई इसमें असम के एनआरसी, राफेल डील, पीएनबी फ्रॉड के आरोपी मेहुल चौकसी  राष्ट्र के वर्तमान आर्थिक दशा पर चर्चा हुई मीटिंग में कांग्रेस पार्टीअध्यक्ष राहुल गांधी समेत पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, अहमद पटेल, मुकुल वासनिक, अशोक गहलोत, अधीन नबी आजाद, मोतीलाल वोरा, अंबिका सोनी सहित 30 से ज्यादा जरूरी नेता शामिल हुए

Image result for लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस पार्टी को मिला ट्रंप कार्ड, जाने कौन है वो

एनआरसी कांग्रेस पार्टी की देन पर भाजपा ने इसकी रूपरेखा बिगाड़ दी
इस मीटिंग में ज्यादातर कांग्रेस पार्टी नेताओं ने बोला कि एनआरसी का कॉन्सेप्ट कांग्रेस लेकर आई थी, जिसका मकसद विदेशियों की पहचान करना था  यह कार्य कांग्रेस पार्टी ने तेजी से किया, लेकिन नरेंद्र मोदी गवर्नमेंट ध्रुवीकरण के लिए इस पूरे मामले में झूठ बोल रही है इसके अतिरिक्तकांग्रेस पार्टी कार्यसमिति में यह तय किया गया है कि मेहुल चौकसी  राफेल डील के मुद्दे पर पार्टी देशभर में आंदोलन करेगी इसकी रूपरेखा जल्द तैयार होगी कांग्रेस पार्टी ने यह भी आरोप लगाया कि राफेल डील से राष्ट्र को 48 हजार करोड़ का नुकसान हुआ है यह सीधे तौर पर करप्शन का मामला है जिसमें एक कंपनी को लाभ पहुंचाया गया

Loading...

छूटे लोगों में हिन्‍दू बंगाल  नेपाली गोरखा
कांग्रेस पार्टी कार्यसमिति समिति की मीटिंग के बाद रणदीप सुरजेवाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोला कि एनआरसी की पूरी प्रक्रिया-असम एकॉर्डिंग, जिसको पूर्व पीएम राजीव गांधी ने प्रारम्भ किया था, उसके तहत चालू की गई इसमें सभी की राय ली गई थी ताकि विदेशी नागरिकों की पहचान हो सके2009 की मनमोहन सिंह की गवर्नमेंट ने 490 करोड़ रुपए एनआरसी के लिए दिए थे इसके तहत विदेशियों की पहचान करना थी लेकिन 40 लाख लोग छूट गए हैं इसमें हिन्‍दू बंगाली, नेपाली गोरखा साथी,  रिलीजियस माइनॉरिटी के साथी हैं यहां तक कि यूपी, बिहार, तमिलनाडु  दूसरे प्रांतों से आए लोग वहां बस गए वह लोग छूट गए हैं कांग्रेस पार्टी वर्किंग कमेटी का मानना है कि हर इंडियन नागरिक को अपनी नागरिकता साबित करने का मौका मिलना चाहिए हम उनको पूरी मदद करेंगे जो इंडियन नागरिक हैं

loading...

कांग्रेस ने 82 हजार विदेशी डिपोर्ट किए पर भाजपा सिर्फ 1522 को भेज पाई
असम की कांग्रेस पार्टी गवर्नमेंट ने 82000 विदेशियों को यहां से डिपोर्ट किया था  यह कांग्रेस पार्टीगवर्नमेंट ने किया था, जबकि केंद्र की नरेंद्र गवर्नमेंट ने 4 वर्ष में सिर्फ 1522 लोगों को राष्ट्र से बाहर भेजा, यह नरेंद्र मोदी गवर्नमेंट की सच्चाई है यह गवर्नमेंट ने संसद के पटल पर रखा भाजपाएनआरसी की पूरी प्रक्रिया को सामाजिक ताने-बाने को तोड़ने के षड्यंत्र तौर पर प्रयोग कर रही है

राफेल डील से राष्ट्र में भ्रष्‍टाचार फैलाया गया 
कांग्रेस पार्टी कार्यसमिति की मीटिंग में राफेल डील के मुद्दे पर भी व्यापक चर्चा हुई इस सौदे से राष्ट्रको 48 हजार करोड़ों का चूना लगाया गया क्यों पीएम ने कैबिनेट कमेटी ऑन सिक्योरिटी से अनुमति लेने की अवहेलना नहीं की क्यों पीएम ने कॉन्ट्रैक्ट नेगोशिएशन एक्शन कमेटी की अवहेलना की राफेल के मुद्दे पर कांग्रेस पार्टी मोदी गवर्नमेंट से जवाब मांगेगी  हम सड़क पर प्रयत्न भी करेंगे आए दिन हो रहे बैंक घोटाले को लेकर भी कांग्रेस पार्टी कार्यसमिति ने चिंता जताई है 72 हजार करोड़ का घोटाला हुआ है  घोटालेबाजों को मोदी गवर्नमेंट का संरक्षण प्राप्त है मोदी गवर्नमेंट के विदेश मंत्रालय ने मेहुल चौकसी को क्लीन चिट दी जिससे उन्हें एंटीगुआ की नागरिकता मिली, मोदी गवर्नमेंट के संरक्षण में ही मेहुल 24 महाघोटाला करके भाग गया

Loading...
loading...